एक जून शुरू होना है ट्रेन / दो महीने बाद मेघनगर में बुकिंग शुरू, 5 ट्रेन अपने समय पर पहुंचेगी स्टेशन

Booking starts in Meghnagar after two months, 5 trains will arrive at their station
X
Booking starts in Meghnagar after two months, 5 trains will arrive at their station

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 08:30 AM IST

झाबुआ. मेघनगर स्टेशन पर ट्रेन के टिकट की बुकिंग शुरू हो गई। ये 1 जून से शुरू होने जा रही ट्रेनों के लिए किया गया। यहां 21 मार्च के बाद पहली बार बुकिंग शुरू हुई। पहले दिन बुकिंग ज्यादा नहीं हुई। दिल्ली-मुंबई रूट के मेघनगर स्टेशन पर दोनों तरफ जाने वाली 5 गाड़ियों का स्टॉपेज रहेगा। अभी सिर्फ नॉन एसी गाड़ियां चलाई जाएंगी। बुकिंग के बाद ट्रेन केंसलेशन नहीं होगा। इसके अलावा गुजरात के दाहोद में भी बुकिंग शुरू हो गई है। अभी झाबुआ के बुकिंग काउंटर को शुरू करने के निर्देश नहीं मिले हैं। 
देश में 22 मार्च से ट्रेनें बंद थी। तबसे ही यहां भी बुकिंग बंद थी। हालांकि इसके कुछ दिन पहले से बुकिंग लगभग आधी हो चुकी थी। मेघनगर स्टेशन पर आमतौर पर सवा लाख रुपए के आसपास रेवेन्यू हर दिन आता था। लॉकडाउन के एक सप्ताह पहले तक ये 50 से 60 हजार के आसपास रह गया था। अब यहां फिर से गाड़ियां जाने वाली हैं। अभी जो ट्रेनें शुरू हो रही हैं, उनमें से बांद्रा टर्मिनल्स से कालका, अहमदाबाद से वाराणासी, बांद्रा से मुजफ्फरनगर, मुंबई सेंट्रल से जयपुर के लिए स्पेशल ट्रेनें चलेंगी। इनके अलावा दूसरी ट्रेनें भी चलाई जाएंगी, लेकिन उनका स्टॉपेज मेघनगर में नहीं रहेगा। 

अभी 100 जोड़ी स्पेशल गाड़ियां ही चलेंगी- रेल मंत्रालय
केंद्र शुक्रवार को चालू हो गया। पश्चिम रेलवे रतलाम मंडल के सात स्टेशनों पर सामान्य यात्रियों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए आरक्षण केंद्र की शुरुआत कि है। 21 मई से ऑनलाइन टिकट आरक्षण की शुरुआत भी हो गई है। रेलवे बोर्ड के निर्देशानुसार सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए सीमित संख्या में आरक्षण केंद्र खोले जा रहे हैं। रतलाम मंडल से होकर दैनिक व साप्ताहिक कुल 12 जोड़ी गाड़ियों का परिचालन किया जाएगा। जिनका ठहराव रतलाम मंडल के विभिन्न स्टेशनों पर रहेगा। गाड़ियों के ठहराव को देखते हुए रतलाम मंडल के इंदौर, उज्जैन, रतलाम, चित्तौड़गढ़, दाहोद, मेघनगर एवं नागदा स्टेशनों पर रिजर्वेशन काउंटर खोले गए हैं। आरक्षण केंद्रों पर पूर्व में आरक्षित टिकट निरस्त नहीं होंगे। इसके लिए बाद में जानकारी दी जाएगी। लॉकडाउन के पूर्व बुक टिकटों को यात्रा की तारीख से 6 महीने के अंदर किसी भी केंद्र से निरस्त कराया जा सकता है। 

... लेकिन बसों पर संशय
इधर बसों को लेकर ये खबर चलती रही कि ग्रीन जोन से ग्रीन जोन में बसों के संचालन की कार्रवाई शुरू की जा रही है। वैसे इसे लेकर न परिवहन विभाग के पास कोई निर्देश आए और न ही बस संचालकों के पास। हालांकि बस संचालक ऐसे में भी फिलहाल बसें चलाने की तैयारी में नहीं हैं। अगर ये अनुमति मिली तो झाबुआ से सिर्फ रतलाम और आलीराजपुर की तरफ बसें जा पाएंगी। यहां से 30 से ज्यादा बसें आलीराजपुर और 6 से 7 बसें रतलाम तक जाती हैं। सबसे ज्यादा बिजनेस इंदौर, धार की तरफ है। लेकिन ये दोनों रेड जोन में हैं। दाहोद या गुजरात की ओर जाने के लिए नियम जारी होने का इंतजार है। 

सोशल डिस्टेंसिंग के साथ सवारियां बिठाते हैं तो तीन गुना किराया करना पड़ेगा
बस संचालक मनीष जैन ने बताया, अभी टैक्स को लेकर चर्चा होगी। हमसे इन दो महीनों का टैक्स भी मांगा जा रहा है, जब बसें खड़ी थी। इसके अलावा अगर सोशल डिस्टेंसिंग के साथ सवारियां बिठाते हैं तो ढाई से तीन गुना किराया करना पड़ेगा। दो या तीन की सीट पर एक सवारी बिठाना पड़ेगी। ये सारी परेशानियां हैं। अभी भी जो किराया दर है, उसमें क्षमता के हिसाब से सवारी बिठाने पर भी पूरा नहीं पड़ता।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना