पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

चातुर्मास:भक्तों पर था प्रतिबंध इसलिए भगवान को सुनाई कथा

झाबुआ2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • अधिकमास सहित पांच माह हुए आयोजन, कोविड के कारण श्रद्धालु नहीं ले पाए धर्मलाभ

चारभुजानाथ मंदिर में चल रही चातुर्मास की कथा का समापन हुआ। इस वर्ष अधिकमास सहित पांच माह तक कथा हुई। खास बात यह रही कि कोरोना के चलते इस बार भक्तों को मंदिर में प्रवेश नहीं था, इसलिए पूरे समय भगवान को कथा सुनाई गई।

देव उठनी एकादशी की रात कथा का समापन हुआ। यहां शाम 7 बजे तुलसी विवाह भी किया गया। कथा का वाचन पं. विश्वनाथ शुक्ल ने किया। प्रति वर्ष चातुर्मास में इस मंदिर में कथा होती है जिसे श्रवण करने बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहुंचते हैं, लेकिन इस बार लॉकडाउन और कोरोना संक्रमण के कारण यह कथा सभी को नहीं सुनाई गई। विधि-विधान के साथ इसका समापन किया गया।

इससे पहले मंदिर में तुलसी विवाह पं. हिमांशु शुक्ल ने संपन्न कराया। इसके लिए भगवान चारभुजानाथ का शृंगार दूल्हे की तरह किया गया। मंदिर परिसर में साठे का मंडप बनाया गया था। जहां तुलसीजी का गमला व कृष्ण भगवान की प्रतिमा रखकर विवाह संपन्न कराया। विवाह विधान पूर्वक मंत्रोच्चार व मंगलाष्टक के साथ हुआ। करीब एक घंटे चले इस कार्यक्रम में श्रद्धालुओं ने पहुंचकर भी धर्मलाभ लिया।

वैष्णव संप्रदाय ने गुरुवार को मनाई देव उठनी ग्यारस

वैष्णव संप्रदाय ने गुरुवार को देव उठनी ग्यारस मनाई। इसके चलते शहर के मध्य स्थित गोवर्धननाथ मंदिर में कार्यक्रम हुआ। मंदिर के मुखिया दिलीप आचार्य ने बताया सुबह 10 बजे देव उत्थापन हुआ। शाम को जागरण के चार दर्शन खुले। जागरण के भी चार दर्शन हुए।

श्री मेढ़ क्षत्रिय स्वर्णकार मंदिर में नहीं हुआ तुलसी विवाह कार्यक्रम

शहर के राधाकृष्ण मार्ग स्थित श्री मेढ़ क्षत्रिय स्वर्णकार मंदिर में प्रतिवर्ष स्वर्णकार समाज द्वारा तुलसी विवाह कार्यक्रम का आयोजन भव्य स्तर पर किया जाता है। मंदिर के सेवक पं. प्रदीप भट्ट ने बताया इस वर्ष कोविड के बढ़ते प्रकोप व सोशल डिस्टेंसिंग को दृष्टिगत रखते हुए समाजजनों ने तुलसी विवाह कार्यक्रम नहीं करने का निर्णय लिया था।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- जिस काम के लिए आप पिछले कुछ समय से प्रयासरत थे, उस कार्य के लिए कोई उचित संपर्क मिल जाएगा। बातचीत के माध्यम से आप कई मसलों का हल व समाधान खोज लेंगे। किसी जरूरतमंद मित्र की सहायता करने से आपको...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser