हड़ताल के बाद सुधारी:मेन लाइन में फाल्ट होने से शाम 4 बजे आधे शहर में गुल हुई बिजली

झाबुआ3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
हड़ताल करते कर्मचारी। - Dainik Bhaskar
हड़ताल करते कर्मचारी।
  • निजीकरण के विरोध में एक दिन काम का बहिष्कार कर रहे थे अधिकारी- कर्मचारी, शिकायतों के कॉल भी अटेंड नहीं किए

मेन लाइन में फॉल्ट होने से शनिवार शाम 4 बजे आधे शहर की बिजली गुल हो गई। राजवाड़ा, राजगढ़ नाका, गुड़ा, मारुती नगर सहित विभिन्न स्थानों पर दो घंटे तक बिजली बंद रहने से लोगों के जरूरी कार्य प्रभावित हुए। लोग बिजली कंपनी के नंबरों पर शिकायतें दर्ज कराने के लिए कॉल करते रहे, लेकिन किसी का कॉल अटेंड नहीं किया गया। बता दें निजीकरण के विरोध में शनिवार को बिजली कंपनी के अधिकारी-कर्मचारी एक दिन काम का बहिष्कार कर रहे थे। ये हड़ताल शाम 5 बजे तक चली। हड़ताल खत्म होने के बाद फाल्ट सुधारा, जिसके बाद करीब 6 बजे बिजली चालू हुई।

इन मांगों को लेकर थी हड़ताल : विद्युत क्षेत्र में कार्यरत 17 अधिकारी-कर्मचारी संगठनों के महा गठबंधन के रूप में संयुक्त मोर्चा द्वारा 5 सूत्रीय मांगों को लेकर प्रांत व्यापी चरणबद्ध आंदोलन किया जा रहा है। जिनमें विद्युत वितरण कंपनियों का निजीकरण को रोकने, संविदा कर्मियों के नियमितिकरण, आउटसोर्स कर्मियों के कंपनी में संविलियन कोविड-19 महामारी में दिवंगत अधिकारी-कर्मचारियों को कोरोना योद्धा के रूप में 50 लाख रुपए की क्षतिपूर्ति के भुगतान आदि मांगें शामिल हैं।

खबरें और भी हैं...