पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कोरोना के चलते रही सतर्कता:चल समारोह नहीं निकले, आरती में भी कम भक्तों को मिली एंट्री

झाबुआ13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • सवार्थ सिद्धि योग में हुई घटस्थापना, 9 में से 7 दिन विशेष संयोग

माता की भक्ति का पर्व नवरात्रि शनिवार से शुरू हो गया। सर्वार्थ सिद्धि योग में घटस्थापना की गई। कोविड-19 के चलते इस बार चल समारोह नहीं निकाले गए। माता की घटस्थापना सादगी से की गई। इस बार सार्वजनिक स्थानों के बजाय घराें में उल्लास छाएगा।

खास बात ये है कि नवरात्रि में इस बार 7 दिन सर्वार्थ सिद्धि, रवि सिद्धि, द्वि पुष्कर और सौभाग्य योग बन रहे हैं। यह योग लोगों को नई वस्तु खरीदने, गृह प्रवेश करने, रिश्ते तय करने के मामले में शुभ फल देने वाले होंगे।

हर साल धूमधाम से होने वाली घट स्थापना इस बार सादगी से हुई। शहर व आसपास करीब एक दर्जन से अधिक स्थानों पर माताजी की प्रतिमा विराजित की गई है। इसमें तीन प्रमुख स्थान राजवाड़ा चौक, राजगढ़ नाका और विवेकानंद कॉलोनी में माता की घटस्थापना सादगी से हुई।

राजवाड़ा और विवेकानंद कॉलोनी में सुबह जबकि राजगढ़ नाके पर शाम को घटस्थापना विधि विधान से की गई। हर साल निकलने वाला चल समारोह पहले ही स्थगित कर दिया गया था। दूसरी ओर माता मंदिरों में लोग दर्शन करने पहुंचे। प्रमुख मंदिर कालिका माता और अम्बे माता मंदिर में भक्तों ने आरती में शामिल होकर दर्शन किए। दिनभर बारी-बारी से दर्शन का सिलसिला चलता रहा।

कब कौन सा योग : गृह प्रवेश, मांगलिक कार्य, खरीदारी सभी के लिए शुभ

सर्वार्थ सिद्धि योग : 17 अक्टूबर को घटस्थापना सर्वार्थ सिद्धि योग में हुई। इस योग में गृह प्रवेश, व्यापार मुहुर्त, मकान की नींव डालने, विवाह संबंध तय करने के लिए शुभ रहता है।

द्वि पुष्कर योग : नवरात्र में 19 अक्टूबर को यह योग बनेगा। मान्यता है कि इस योग में खरीदारी करने पर दोबारा वह वस्तु खरीदने का योग मिलता है।

रवि सिद्धि योग : नवरात्र के दौरान यह योग 18 व 24 अक्टूबर को रहेंगे। इस योग में प्रशासन से संंबंधित कार्य, सोना खरीद-फरोख्त से संबंधित कार्यों में सफलता मिलती है।

सौभाग्य योग : नवरात्र में 20 अक्टूबर को सौभाग्य योग बनेगा। इस दिन व्रत रखने से मनोकामना पूरी होती है। माता भगवती शीघ्र प्रसन्न होती हैं, इसलिए शुभ मुहूर्तों में आराधना करना विशेष फलदायी होता है।

इधर पावागढ़ से ज्योत लेकर पहुंचे गांव

हर साल की तरह इस साल भी ग्राम झकेला के ग्रामीण पावागढ़ से अखंड ज्योत लेकर आए। 11 अक्टूबर से युवकों ने पैदल यात्रा शुरू की थी। 17 अक्टूबर को युवक झाबुआ होते हुए झकेला पहुंचे मां दुर्गा के पंडाल में और ज्योत की स्थापना की। यहां नवरात्रि में वर्षों से पावागढ़ से लाई गई अखंड ज्योत प्रज्ज्वलित की जा रही है। युवक विक्रम मेड़ा, यूथ कांग्रेस पेटलावद विधानसभा अध्यक्ष रमेश मोहनिया, रविंद्र इस पैदल यात्रा में शामिल हुए।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप अपनी दिनचर्या को संतुलित तथा व्यवस्थित बनाकर रखें, जिससे अधिकतर काम समय पर पूरे होते जाएंगे। विद्यार्थियों तथा युवाओं को इंटरव्यू व करियर संबंधी परीक्षा में सफलता की पूरी संभावना है। इसलिए...

और पढ़ें