पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

खाकरा पुलिया:माछलिया घाट पर अभी नहीं बनेगा फोरलेन इसलिए टर्न बड़े किए जा रहे

झाबुआ/कालीदेवी19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
माछलिया घाट के मोड़ पर इस तरह सड़क चौड़ी की जा रही है ताकि जाम नहीं लगे। - Dainik Bhaskar
माछलिया घाट के मोड़ पर इस तरह सड़क चौड़ी की जा रही है ताकि जाम नहीं लगे।
  • पहले दोनों ओर स्पीड ब्रेकर बनाकर रेलिंग लगवाई थी
  • फोरलेन नहीं बन सका, बार-बार लगता है जाम और होती है दुर्घटनाएं

बैतूल-अहमदाबाद हाईवे का फोरलेन बनने से बचा 16 किलोमीटर का हिस्सा अभी अधूरा ही रहेगा। इसके निर्माण के लिए जारी किए गए टेंडर की प्रक्रिया लगभग एक साल में भी पूरी नहीं हो पाई। एनएचएआई (नेशनल हाइवे अथॉरिटी) के अफसर बार-बार समय बढ़ा रहे हैं।

सबसे ज्यादा परेशानी माछलिया घाट पर है। यहां आए दिन दुर्घटनाएं हो रही हैं और अमूमन हर दिन कई-कई बार जाम की स्थिति बन रही है। ऐसे में नई-नई जुगाड़ कर इन्हें रोकने की कोशिश हो रही है। अब एनएचएआई घाट के मोड़ और संकरी सड़क वाली जगहों पर पहाड़ खोदकर चौड़ाई बढ़ा रहा है, ताकि जाम नहीं लगे।

इसके पहले जहां-जहां रोड धंस रहा है, वहां रेलिंग लगवाई गई थी। लगातार दुर्घटनाओं का कारण बन रही जर्जर हो चुकी खाकरा पुलिया के दोनों ओर बड़े-बड़े स्पीड ब्रेकर भी बनवाए गए थे। अधूरे हाइवे पर यात्रियों को परेशानी से बचाने के लिए लगातार नए-नए जुगाड़ किए जा रहे हैं। इस बार घाट सेक्शन पर जेसीबी की मदद से पहाड़ खोदकर मोड़ वाले स्थान चौड़े किए जा रहे हैं। फिलहाल यहां डामर सड़क नहीं बनाई जाएगी। दरअसल बड़े वाहन अक्सर मोड़ पर जगह कम होने से फंस जाते हैं और इसी वजह से जाम लगता है। छोटे टर्न होने से बड़े वाहन आए दिन दुर्घटनाग्रस्त भी हो जाते हैं।

2010 से बन रही सड़क, कब बनेगी, पता नहीं

नेशनल हाइवे को फोरलेन बनाने का काम 2010 में शुरू हुआ था। काम वैसे तो 30 महीने में पूरा होना था, लेकिन सड़क बनते-बनते 9 साल हो गए। इसके बावजूद 16 किलोमीटर रह गया। इसमें पिटोल के पास खेड़ी से फूलमाल गांव, माछलिया घाट का सेक्शन और धार जिले में तारखेड़ी से राजगढ़ तक का रोड है। एनएचएआई ने पिछले साल दावा किया कि माछलिया घाट के लिए टेंडर निकाले गए हैं और दो साल में काम पूरा हो जाएगा। अभी तक कुछ हो नहीं सका और आगे कितना समय लगेगा, कह नहीं सकते।

बजट डबल हो गया

माछलिया घाट निर्माण का बजट पहले 150 करोड़ था। अब 275 करोड़ हो गया। इंदौर से गुजरात सीमा तक सड़क की लंबाई 155 किमी है। इसमें से 139 किलोमीटर रोड ही फोरलेन बना। 10 साल पहले प्रोजेक्ट की शुरुआती लागत 1150 करोड़ रुपए थी जो अब 2372.48 करोड़ से ज्यादा हो चुकी है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आपकी प्रतिभा और व्यक्तित्व खुलकर लोगों के सामने आएंगे और आप अपने कार्यों को बेहतरीन तरीके से संपन्न करेंगे। आपके विरोधी आपके समक्ष टिक नहीं पाएंगे। समाज में भी मान-सम्मान बना रहेगा। नेग...

    और पढ़ें