मां की आराधना:रंगपुरा में अनास नदी पर किया माता का विसर्जन, पंडालों में रतजगा रख खेले गरबे

झाबुआ2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 20 पंडालों में जमा रंग, सांसद ने भी खेले गरबे, चारभुजानाथ मंदिर में आयोजन

शहर में नवरात्रि के आखिरी दिन गुरुवार को देर से ही गरबे शुरू हुए। शहर के 20 से ज्यादा पंडालों में गरबों का रंग जमा। गरबा पंडालों में रतजगा का आयोजन रखा गया। सुबह सूर्योदय के साथ ही माताजी को विसर्जन के लिए ले जाया गया। शहर के पास रंगपुरा में अनास नदी पर बनाए गए पोखर में माता विसर्जन किया गया। नगर पालिका ने पोखर में पानी भर रखा था। यहां बिजली व्यवस्था की गई और पुलिस तैनात रही। प्रशासन ने जुलूस निकालने की अनुमति नहीं दी थी। बेरिकेडिंग भी की गई थी।

अष्टमी पर जमा रंग, ड्रेस कोड में खेले गरबे : बुधवार रात शहर में कॉलोनियों में हाे रहे गरबों में महिलाएं ड्रेस कोड में पहुंची। उदयपुरिया गरबा उत्सव समिति के आयोजन में सांसद गुमानसिंह डामोर, भाजपा जिला उपाध्यक्ष सत्येंद्र यादव, भील सेवा संघ अध्यक्ष अजयसिंह डामोर, भूपेश सिंगोड़ और अर्पित कटकानी पहुंचे। यहां सांसद ने भी गरबे खेले। माताजी की आरती के बाद अतिथियों का सम्मान किया गया। उदयपुरिया में शहर के कई इलाकों से महिलाएं गरबों का आनंद लेने पहुंची। बाड़कुआं रोड पर निजी गार्डन में आयोजित गरबों का शुभारंभ सांसद गुमानसिंह डामोर ने किया। यहां नगर पालिका अध्यक्ष मन्नुबेन डोडियार भी पहुंची। आयोजन में मुकेश जैन, अतीश सकलेचा, वरूण सकलेचा, कपिल गादिया ने व्यवस्थाएं की।

कन्याओं को कराया भोज

नेचरल ग्रीन कॉलोनी में भी गरबे हो रहे हैं। यहां गुरुवार को कन्या भोज भी किया गया। इसके अलावा शहर के प्रमुख मंदिरों कालिका माता मंदिर, अम्बे माता मंदिर, हाउसिंग बोर्ड माताजी मंदिर के अलावा गांवों में विशेष आयोजन चले। शहर में शुक्रवार को रावण दहन का आयोजन नगर पालिका परिसर में किया जाएगा।

खबरें और भी हैं...