कार्रवाई / कॉलेज मैदान में बेवजह घूम रहे थे, गेट फांदकर पहुंचे एसडीएम, 32 को भेजा अस्थाई जेल

X

  • शाम सात बजे बाद घर के बाहर निकलने पर प्रतिबंध, गुरुवार रात आठ बजे बाद की कार्रवाई

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 06:41 AM IST

झाबुआ. लॉकडाउन में बाहर निकलने के तय समय सुबह 7 से शाम 7 बजे के बाद घरों से निकलने वालों पर गुरुवार रात कार्रवाई की गई। एसडीएम डॉ. अभयसिंह खरारी अपने साथ टीआई, आरआई और पुलिस टीम लेकर रात 8 बजे से निकले। एक बस को साथ लिया गया और घूमने वालों को गिरफ्तार कर इसमें बिठाया गया। टीम कॉलेज मैदान भी गई। यहां एक गेट पर ताला था तो एसडीएम गेट फांदकर अंदर गए और बाकी टीम को दूसरे गेट से आने को कहा। यहां घेराबंदी कर कई लोगों को तफरीह करते हुए पकड़ा। 

गुरुवार की कार्रवाई में 32 लोगों को गिरफ्तार कर अस्थायी जेल भेजा गया। इनकी जमानत शुक्रवार शाम तक नहीं हो पाई। शाम तक एसडीएम दफ्तर नहीं पहुंचे। गुरुवार रात हुई इस कार्रवाई की शहर में काफी चर्चा रही। शुक्रवार को सकल व्यापारी संघ ने कलेक्टर को ज्ञापन सौंपकर इस कार्रवाई का विरोध किया। आरोप है कि कई संभ्रांत और बीमार लोगों को पकड़कर जेल में डाल दिया गया। एसडीएम खरारी ने बताया, शासन स्तर पर लॉकडाउन में शाम 7 से सुबह 7 बजे तक बिना मेडिकल इमरजेंसी के बाहर निकलना प्रतिबंधित है। इसके बावजूद लोग तफरीह कर रहे थे। ये निर्देश स्पष्ट हैं। लोग चाहे तो इसे कर्फ्यू समझ सकते हैं। पूरा दिन बाहर निकलने की छूट मिली हुई है। कोई चाहे तो इस समय भी घूम सकता है। लेकिन सोशल डिस्टेंसिंग के साथ, मास्क पहनकर।

इन्हें किया गिरफ्तार
अश्विन मांगीलाल चौहान, सौरभ शिवमंडल अधिकारी, हेमंत कैलाश प्रजापत, राहुल विष्णु पीठवा, जिग्नेश अशोक कहार, पियूष सुरेश पांचाल, अनिल मगनसिंह सिंगाड़, राजेश गोरधन पंडित, दिनेश रामचंद्र, नितिन सुरेश वर्मा, राहुल केशरसिंह, अनिल वेस्ता सोलंकी, गौरव हाड़ा, विजय पांडे, दीपक परमेश, अंतिम रमेशचंद्र, कार्लित महेंद्र शर्मा, विनायक मनोज, कृतज्ञ दशरथसिंह राठौर, चैनसिंह, सोहयल शहीद शेख, उदित पुरुषोत्तम ताम्रकार, मुकेश गोपाल कॉलोनी, शमशेर नंदूप्रसाद, सुजीत विजेंद्र, महेश नीमचंद राठौर, अर्पित, अक्षय, गौरव राजकुमारजैन, मिहिर महावीर बरड़िया। 

व्यापारी संघ ने दिया ज्ञापन
अध्यक्ष नीरजसिंह राठौर और एक सदस्य ने पहुंचकर कलेक्टर प्रबल सिपाहा को ज्ञापन दिया। इसमें लिखा गया दो दिनों से निर्दोष लोगों पर कार्रवाई की जा रही है। डायबिटीज, ब्लड प्रेशर के मरीज सुबह-शाम पैदल घूमने निकल रहे हैं, उन्हें गिरफ्तार किया जा रहा है। शहर में ऐसी कई जगह है जहां सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं हो पा रहा। लेकिन कार्रवाई सिर्फ व्यापारियों पर की जा रही है। हो सकता है किसी से गलती हो। लेकिन उनके साथ मानवीय दृष्टिकोण अपनाया जाना चाहिए।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना