पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

10वीं का रिजल्ट घोषित:न मेरिट सूची बनी, न प्रतिशत जारी मूल्यांकन में शामिल हुए विद्यार्थी पास

झाबुआ20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • संजय अजनार व कशिश नागरू को मिले 91% अंक

माध्यमिक शिक्षा मंडल ने बुधवार शाम को कक्षा 10वीं का परिणाम घोषित कर दिया। हालांकि इस बार ना तो जिले की मैरिट घोषित की गई और ना ही प्रदेश की। जिले का प्रतिशत भी जारी नहीं किया गया। स्कूल अपने-अपने स्तर पर प्रतिशत और विद्यार्थियों के अंक देखते रहे।

स्थानीय उत्कृष्ट विद्यालय संजय अजनार ने 91 प्रतिशत अंक हासिल किए। जबकि स्थानीय शासकीय कन्या उमावि की छात्रा कशिश राकेश नागरू को भी 91 प्रतिशत अंक मिले। कोरोना संक्रमण के कारण इस बार दसवीं की परीक्षा नहीं हुई थी। माशिमं ने अर्द्धवार्षिक परीक्षा का 50 प्रतिशत अधिभार, रिविजन टेस्ट का 30 प्रतिशत और शेष 20 प्रतिशत आंतरिक मूल्यांकन अधिभार के आधार पर बेस्ट ऑफ फाइव पद्धति से परिणाम तैयार किया।

इसके चलते मूल्यांकन में शामिल होने वाले सभी विद्यार्थी पास हो गए। जितने विद्यार्थी प्राइवेट थे उन्हें न्यूनतम 33 प्रतिशत अंक देकर पास किया गया है। पिछले साल दसवीं का परीक्षा परिणाम 60.40 प्रतिशत था।

जो एक भी परीक्षा में शामिल नहीं हुआ उसे मिलेगा मौका
जिले में कक्षा दसवीं के 13 हजार 297 विद्यार्थी दर्ज थ। 12 हजार 260 नियमित और 1 हजार 37 स्वाध्यायी थे। ज्यादा विद्यार्थी पास हो गए, लेकिन ऐसे छात्र-छात्रा जो अर्द्धवार्षिक परीक्षा, रिविजन टेस्ट और आंतरिक मूल्यांकन में शामिल नहीं हो पाए थे उन्हें एक और मौका दिया जाएगा। हालांकि ऐसे कितने विद्यार्थी है इसके आंकड़े बोर्ड ने जारी नहीं किए। ना ही इस तरह का कोई आंकड़ा जिला शिक्षा विभाग के पास भेजा गया। जिले में कुल कितने विद्यार्थी उत्तीर्ण हुए इसका आंकड़ा भी शिक्षा विभाग को नहीं भेजा गया। स्कूल अपने स्तर पर ही रिजल्ट देखते नजर आए।

उत्कृष्ट विद्यालय रामा के दो भाई प्रथम व द्वितीय रहे कालीदेवी | शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय रामा के कमलेश पिता कलसिंह को 72 प्रतिशत अंक मिले। जबकि इसके भाई किशोर 70 प्रतिशत अंक हासिल किए।

खबरें और भी हैं...