लाॅकडाउन का असर / जुमेतुल विदा पर घरों में हुई इबादत, मसजिदों में 5-5 लोगों ने पढ़ी नमाज

X

  • आज चांद दिखा तो रविवार को मनेगी ईद, वरना सोमवार को घुलेगी ईद की मिठास

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 07:14 AM IST

झाबुआ. मीठी ईद के पहले आए रमजान माह के आखिरी जुमा (जुमेतुल विदा) पर समाजजनों ने घरों पर ही नमाज पढ़ी। मसजिदों में लॉकडाउन के नियमानुसार सिर्फ 5-5 लोगों ने जुमे की नमाज अदा की। इसी के साथ ही अब ईद की तैयारियां तेज हो गई है। हालांकि इस बार ईद की नमाज भी समाजजनों को घरों में पढ़ना होगी।

इस दौरान उन्होंने देश में अमन चैन के साथ ही अल्लाह से कोरोना मुक्ति की दुआ मांगी। लॉकडाउन के चलते समाजजन घरों में इबादत कर रहे हैं। रमजान माह के आखिरी जुमे पर मस्जिदों में अजान के बाद तयशुदा वक्त पर नमाज पढ़ी गई। जिला सदर नोमान खान ने बताया इस बार ईद पर सामूहिक नमाज नहीं होगी। तय लोग ही मसजिद में ईद की नमाज पढ़ सकेंगे। समाजजनों को घरों पर ही नमाज अदा करना होगी। उन्होंने बताया ईद की नमाज घर पर किस तरह पढ़ना है यह मसजिद पेश ईमाम व मुफ्ती से फोन पर चर्चा कर जानकारी ले सकते हैं। उधर, रमजान माह का आखिरी अशरा चल रहा है। शुक्रवार को 28 रोजे पूरे हो गए। अगर शनिवार की शाम चांद दिखता है तो रविवार को ईद मनाई जाएगी, इसी तरह अगर रविवार को चांद दिखा तो सोमवार को ईद मनेगी।

ईदगाह पर नमाज होगी या नहीं अभी तय नहीं
पीजी कॉलेज के समीप स्थित ईदगाह पर ईद की नमाज को लेकर असमंजस की स्थिति है। मुस्लिम पंचायत के सदर हाजी सलीम खान ने बताया इस बार सामूहिक रूप से ईद की नमाज नहीं होगी। ईदगाह पर नमाज होगी या नहीं इसे लेकर अभी कुछ तय नहीं किया है। पंचायत के सदस्यों से चर्चा कर आखिरी निर्णय लेंगे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना