पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मौसम में बदलाव:प्री मानसून एक्टिविटी शुरू, 24 घंटे में 13.6 मिमी बारिश

झाबुआ6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
दोपहर में बादल घने हो गए थे, इसके बाद बूंदाबांदी हुई, मौसम खुल गया। - Dainik Bhaskar
दोपहर में बादल घने हो गए थे, इसके बाद बूंदाबांदी हुई, मौसम खुल गया।

प्री मानसून की एक्टिविटी शुरू हो चुकी है। 15 जून के बाद कभी भी मानसून आने की संभावनाएं जताई जा रही है। लेकिन 18 से 21 जून के बीच में मानसून सक्रिय होने की अटकलें लगाई जा रही हैं। इस बार मानसून समय पर पहुंचने की उम्मीद है।
मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार कर्नाटक तटीय इलाके में चक्रवातीय परिसंचरण से दक्षिण-पश्चिम मानसून का आगे बढ़ना बाधित हो गया था। जून से दक्षिण-पश्चिमी हवाएं धीरे-धीरे जोर पकड़ती है लेकिन कर्नाटक तट पर बने चक्रवात से दक्षिण-पश्चिम मानसून की गति धीमी हो गई। इसी वजह से मानसून वहां दो दिन लेट हो गया। इस बार मई से जून के बीच न तो लू चली और न ही गर्मी बढ़ पाई।
लोग उमस से परेशान रहे
अभी तक सीजन का सबसे गर्म दिन 42.8 डिग्री (30 अप्रैल 2021) रहा। जबकि मई-जून में बढ़ने वाला पारा अभी भी स्थिर है। जून महीने में दिन का तापमान लगातार घटते क्रम में है। रविवार को अधिकतम तापमान 35.5 व न्यूनतम 23.4 डिग्री दर्ज किया गया।

शनिवार को हुई बारिश के कारण तापमान में गिरावट आई। इस दौरान शहर में 13.8 मिमी बारिश दर्ज की गई। इसके असर से 24 घंटे में अधिकतम तापमान में 1.1 डिग्री गिर गया। जबकि रात के तापमान में 2 डिगी की कमी आई।

रविवार को लोग पूरे दिन उमस भरी गर्मी से परेशान रहे। दिन भर बादल छाए रहे। कभी धूप तो कभी छांव का सिलसिला चलता रहा। कहीं-कहीं बूंदाबांदी भी हुई। इससे उमस बढ़ गई।
एक बार भी नहीं चली लू
इस साल जून की शुरुआत के बाद अभी तक इन पांच दिनों में तापमान घटते क्रम में है। मई से लेकर अभी तक एक भी दिन ऐसा नहीं रहा जिसमें लू चली हो। उधर, रातों का भी तापमान इस बार नहीं चढ़ पाया है।

खबरें और भी हैं...