पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जिले में कोरोना:रिकाॅर्ड टूटा, एक दिन में सबसे ज्यादा 68 नए मरीज मिले, अब तक 3167 पॉजिटिव

झाबुआ13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जिले में कोरोना ने अब तक के सारे रिकाॅर्ड तोड़ दिए। बुधवार को एक दिन में सबसे ज्यादा 68 केस मिले। इसके साथ ही कोरोना मरीजों की कुल संख्या 3167 हो गई। एक्टिव केस भी रिकाॅर्ड स्तर पर पहुंचकर 259 हो गए। अप्रैल के पहले सप्ताह में ही 351 नए मरीज मिले हैं। हाल दिन-ब-दिन खराब हो रहे हैं। टेस्ट कराने वाले सुबह से फीवर क्लीनिक पर काफी संख्या में पहुंच रहे हैं, लेकिन इनसे भी कई लोग सीटी स्कैन करा रहे हैं। सीटी स्कैन कराने वालों में से आधे से ज्यादा में संक्रमण पाया जा रहा है। ये केस कोरोना की सरकारी लिस्ट में शामिल नहीं हैं। जिले में रेमडेसिविर इंजेक्शन उपलब्ध नहीं है। इंदौर और रतलाम में स्टॉकिस्ट हैं और वहां के प्रशासन ने बाहर भेजने पर रोक लगा दी।

इस बीच गुरुवार को मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. जयपालसिंह ठाकुर भी संक्रमित हो गए। लगतार कई अफसर कोरोना संक्रमण की जद में आ गए हैं। इधर उपचार के लिए इंदौर, दाहोद, बड़ौदा जाने वाले भी काफी संख्या में हैं। लेकिन इनमें से ज्यादातर के नाम जिले की कोरोना संक्रमितों की सूची में नहीं है। इसके बावजूद बड़ी संख्या चिंता पैदा करने वाली है। बुधवार को आई रिपोर्ट में संक्रमण का प्रतिशत 17 से ज्यादा रहा।

ये पंडाल उत्सव का नहीं, प्रार्थना है कि जल्दी निकल जाए

झाबुआ में एक ही सीटी स्कैन सेंटर है। यहां हर दिन 40 से ज्यादा स्कैनिंग हो रही हैं। लगातार संख्या बढ़ रही है। इतनी कि लोगों काे बाहर बैठकर इंतजार करना पड़ रहा है। धूप तेज है तो छांव के लिए संचालकों ने यहां एक टेंट लगवा दिया। सड़क से गुजरने वालों को एक बार तो ये लगता है कि यहां कोई उत्सव या आयोजन चल रहा है। लेकिन दरअसल ये पंडाल उन लोगों से भरा है, जिन्हें अपनी, अपने परिवार के लोगों की चिंता सता रही होती है। ये चिंता सही भी है। यहां सीटी स्कैन कराने वाले आधे से ज्यादा लोगों में संक्रमण पाया जा रहा है। जांच कराने आए एक व्यक्ति ने कहा, ईश्वर से प्रार्थना है ये भीड़ जल्दी खत्म हो और ये पंडाल जल्दी निकल जाए।

उपचार के इंतजाम का दावा, लेकिन यहां नहीं रुक रहे लोग, जिले के बाहर करा रहे
शहर में औपचारिक तौर पर कोरोना मरीजों के उपचार के लिए जिला अस्पताल में ही व्यवस्थाएं हैं। यहां कोविड वार्ड की क्षमता 30 बेड की है। फिलहाल इनमें 13 मरीज भर्ती हैं। ज्यादातर बेड खाली है। लोगों को सरकारी अस्पताल पर भरोसा नहीं है। कई गंभीर मरीज जिले के बाहर जाकर उपचार करा रहे हैं।

जो होम आइसोलेशन में, वो बाहर करा रहे इलाज : सरकारी रिकाॅर्ड में 234 मरीज होम आइसाेलेशन में हैं। लेकिन इनमें से कई बाहर इलाज करा रहे हैं। शहर के एक युवक को दो दिन पहले गंभीर अवस्था में बड़ौदा ले जाया गया। दाहोद के एक ही अस्पताल में शहर के एक दर्जन के लगभग मरीज भर्ती हुए हैं।

ऑक्सीजन की स्थिति
तीन दिन का स्टॉक है। लगातार सप्लाय मिल रही है। बड़े सिलेंडर गुरुवार तक शाम तक 90 भरे हुए थे और छोटे सिलेंडर 180 से ज्यादा। सेंट्रलाइज सिस्टम में एक बार में 8 बड़े सिलेंडर लगते हैं। ये लगभग 10 घंटे सप्लाय करते हैं।
गुजरात से ला रहे रेमडेसिविर इंजेक्शन
ये इंजेक्शन जिले में कहीं नहीं मिल रहा। जरूरत पड़ने पर लोग गुजरात से महंगे दाम पर ला रहे हैं। केमिस्टों ने प्रशासन से मांग की है कि यहां भी उपलब्ध कराए जाएं।
अस्पताल में उपचार के पर्याप्त इंतजाम
^जिला अस्पताल में पर्याप्त आईसीयू बेड्स हैं। ऑक्सीजन सप्लाय के साथ 20 बेड अलग से हैं। अगर ये कम पड़े तो निजी अस्पतालों में भी व्यवस्था की जा सकती है।
सिद्धार्थ जैन, सीईओ जिलां पंचायत व प्रभारी कलेक्टर



खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- कहीं इन्वेस्टमेंट करने के लिए समय उत्तम है, लेकिन किसी अनुभवी व्यक्ति का मार्गदर्शन अवश्य लें। धार्मिक तथा आध्यात्मिक गतिविधियों में भी आपका विशेष योगदान रहेगा। किसी नजदीकी संबंधी द्वारा शुभ ...

    और पढ़ें