पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

डेढ़ घंटे तक जाम:ब्रेक नहीं लगने से ट्रक सजेली के रेलवे फाटक से टकराया

झाबुआ6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
ट्रक की टक्कर से फाटक का बैरियर क्षतिग्रस्त हो गया। इसे निकालना पड़ा। - Dainik Bhaskar
ट्रक की टक्कर से फाटक का बैरियर क्षतिग्रस्त हो गया। इसे निकालना पड़ा।
  • अक्टूबर 2018 में राजधानी एक्सप्रेस में घुसा था ट्रक, फिर उसी जगह हादसा

दिल्ली-मुंबई रेलवे ट्रैक पर सजेली की फाटक नंबर 61 ए पर एक ट्रक टकरा गया। घटना रविवार दोपहर 2.10 बजे की है। टक्कर से फाटक के एक ओर के बैरियर क्षतिग्रस्त हो गए। थांदला-मेघनगर के बीच स्थित फाटक के दोनों ओर डेढ़ घंटे जाम लगा रहा।

दोनों ओर एक किमी से ज्यादा लंबी कतार लग गई। बैरियर को सुधारने के बाद आवागमन सुचारु हुआ। घटना के समय ट्रैक पर दाहोद की ओर मालगाड़ी जा रही थी। ट्रक नंबर आरजे-09-जीसी-9099 मेघनगर की तरफ से आ रहा था। उतार में ब्रेक नहीं लग पाए और वो फाटक में जा घुसा।

सूचना मिलने पर मेघनगर और थांदला रोड स्टेशन से रेलवे की टीम पहुंची। आपको बता दें, ये वही रेलवे फाटक है, जहां अक्टूबर 2018 में रेत से भरा ट्रक दिल्ली की ओर जा रही राजधानी एक्सप्रेस में जा घुसा था।

ट्रक ड्राइवर की मौत हो गई थी और राजधानी एक्सप्रेस के 5 डिब्बे पटरी से उतर गए थे। ट्रैक को भी काफी नुकसान हुआ था। यहां कई घटनाएं हो चुकी हैं। रेलवे ने आरओबी (रोड ओवरब्रिज) बनाने के लिए काफी पहले स्वीकृति दे दी है।

राज्य सरकार ने इस साल के बजट में यहां निर्माण की मंजूरी दी। काम शुरू नहीं हो पाया है। ये काफी व्यस्त मार्ग होने से आवागमन अधिक होता है। रेलवे ने 2019 के बजट में यहां के लिए 20 करोड़ का बजट स्वीकृत किया था।

8 घंटे बंद रहा बामनिया फाटक : बामनिया|बामनिया की रेलवे फाटक को शुक्रवार रात 9 से शनिवार सुबह 5 बजे तक बंद रखा गया। पानी निकासी के लिए पाइप डालने के लिए ये ब्लॉक किया गया था। फाटक के समीप पहुंच मार्ग के एक ओर खाई नुमा भाग से दूसरी ओर पानी निकासी के लिए पाइप डाला गया।

स्टेशन अधीक्षक जितेंद्रसिंह देवड़ा एवं सेक्शन के पीडब्ल्यूआई दीपक कैथवास ने बताया, फाटक के दोनों ओर का मार्ग ऊंचाई वाला है, जिससे रेल फाटक तक पहुंच मार्ग के एक ओर खाई नुमा स्थिति है। बारिश में इस भाग में पानी भर जाता है। यातायात में दिक्कत न हो इसलिए रात का समय चुना गया।

खबरें और भी हैं...