पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

शारीरिक शोषण का आरोप:भाजपा जिलाध्यक्ष पर शोषण का आरोप लगाते महिला का वीडियो वायरल

झाबुआ13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
लक्ष्मणसिंह नायक - Dainik Bhaskar
लक्ष्मणसिंह नायक
  • जिलाध्यक्ष लक्ष्मण नायक ने कहा- पार्टी में ही मेरे विरोधी मुझे बदनाम करने के लिए कर रहे हैं षड्यंत्र, हमें तो अपनों ने लूटा गैरों में कहां दम था

भाजपा जिलाध्यक्ष लक्ष्मणसिंह नायक पर फिर एक महिला ने शारीरिक शोषण के आरोप लगाए हैं। पिटोल के पास के गांव की महिला का पति भाजपा कार्यकर्ता है। शनिवार को महिला का एक वीडियो सामने आया, जिसमें वो आरोप लगा रही है कि पति के पुलिस केस में मदद करनेे का वादा करके नायक ने करीबी बढ़ाई व शारीरिक शोषण किया। इसके कुछ घंटों बाद महिला का एक और वीडियो सामने आ गया। इसमें वो लक्ष्मणसिंह नायक को क्लीन चिट देती हुई कह रही है, कुछ लोगों ने लालच देकर और डराकर वो वीडियो बनाया था। महिला का एक शिकायती आवेदन भी सार्वजनिक हुआ, जिसमें आरोप हैं और एक शपथ पत्र भी आ गया, जिसमें आरोप झूठे बताए जा रहे हैं।

नायक पर पिछले साल भी एक महिला ने इस तरह का आरोप लगाया था। पूरे मामले में जिलाध्यक्ष का दावा है कि उन्हें बदनाम करने और फंसाने के लिए षड्यंत्र रचा गया। इसमें पार्टी के कुछ लोग हो सकते हैं।

दोनों वीडियो में महिला के आखिरी के शब्द एक जैसे, बिना किसी के दबाव के वीडियो बना रही हूं

पहला वीडियो : महिला कह रही है, वो दो साल से लक्ष्मणसिंह नायक के संपर्क में है। धमकी दी कि एसपी से कहकर पति के पुराने केस खुलवा देगा। मकान बनाने के लिए पैसे देने का लालच भी दिया। अपनी गाड़ी से गुजरात ले गया और संबंध बनाए। संबंध बनाए रखने के लिए दबाव बनाते हैं। मैं ये वीडियो बिना किसी दबाव के अपनी इच्छा से बना रही हूं।

दूसरा वीडियो : मैं भाजपा कार्यालय पर पति के साथ गई थी। बाहर खड़ी थी, तब एक व्यक्ति मिला। उसने मुझसे वीडियो बनाने को कहा और बोला 10 लाख तक दिलवा दूंगा। इंकार किया तो ऑफिस बुलाया। वहां जबरन 20 हजार रुपए दिए। बोला, वीडियो नहीं बनाया तो जान से मरवा देंगे। इस वीडियो में भी महिला कह रही है, अपनी इच्छा से बिना किसी दबाव के कह रही हूं।

पहले शिकायत मुख्यमंत्री तक भेजी, फिर शपथ पत्र में मुकरी
महिला ने एक शिकायती पत्र मुख्यमंत्री, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष और डीजीपी के नाम भेजा गया। इसमें कई गंभीर आरोप हैं। गर्भवती होने पर ड्रायवर के साथ 2 हजार रुपए भेजने और उससे गोली खरीदकर खाई। स्थिति बिगड़ गई तो अस्पताल में भर्ती करना पड़ा। नायक ने मेरा कोई सहयोग नहीं किया, न मेरी तबीयत देखने आए। इसके बाद एक शपथ पत्र बनवाया गया। इसमें वही बातें लिखी गई जो दूसरे वीडियो में कही गई थी। आखिर में लिखा, लक्ष्मणसिंह नायक पर जो भी आरोप मैंने लगाए हैं, वो असत्य व निराधार हैं।

पहले भी लगे हैं आरोप
लक्ष्मणसिंह नायक पर पिछले साल एक महिला ने आरोप लगाते हुए रिकार्डिंग सार्वजनिक की थी। एक आवेदन पुलिस को दिया था, जिसमें आरोप लगाया था कि पति के काम में नुकसान की धमकी देकर शोषण किया गया। इसके अलावा एक ऑडियो भी वायरल हुआ था। इसमें एक सरकारी काम को लेकर महिला समूह से बात हुई थी। एक कार्यकर्ता से नोंकझोंक का ऑडियो भी आ चुका है।
आरोप गलत, मुझे बदनाम किया जा रहा
षड्यंत्रणपूर्वक मुझे बदनाम करने के लिए ये सब किया गया। सच सामने आ चुका है। महिला को लालच देकर और धमकाकर वीडियो बनाया गया था। सांप्रदायिकता भी हो सकती है। मैं सभी संप्रदाय का सम्मान करता हूं और सबके साथ मेरे अच्छे संबंध है। फिर भी कोई ऐसा करे तो क्या किया जा सकता है। -लक्ष्मणसिंह नायक, जिला अध्यक्ष, भाजपा

खबरें और भी हैं...