कोरोना कर्फ्यू अब 10 मई तक:शादियों पर 15 तारीख तक प्रतिबंध लगाया

झाबुआ6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • कलेक्टर सोमेश मिश्रा ने जारी किए आदेश, सीएम की मीटिंग के बाद बढ़ाया गया कोरोना कर्फ्यू

जिले में कोरोना कर्फ्यू की समयसीमा बढ़ा दी गई है। ये अब 10 मई की सुबह 6 बजे तक लागू रहेगा। इसके अलावा जिले में शादियों पर पूरी तरह प्रतिबंध लगा दिया गया है। 1 से 15 मई तक विवाह नहीं हो सकेंगे। कलेक्टर सोमेश मिश्रा ने बुधवार देर शाम ये आदेश जारी किए। जिले में कोरोना कर्फ्यू दूसरी बार बढ़ाया गया है। पहले 16 अप्रैल की शाम 6 बजे से 26 अप्रैल की सुबह 6 बजे तक लागू किया गया था। फिर इसे 30 अप्रैल तक बढ़ा दिया गया। बुधवार को मुख्यमंत्री की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के बाद इसे और आगे बढ़ाने का फैसला लिया गया। कोरोना कर्फ्यू को सख्ती से लागू करने के बावजूद जिले में कोरोना के नए केस मिलने का सिलसिला कम नहीं हो रहा है। इसके अलावा लगातार ग्रामीण क्षेत्रों में शादियों में भीड़ जमा होने की शिकायतें भी सामने आ रही हैं।

कई गाड़ियों को बारात ले जाने के दौरान जब्त किया गया और कुछ शादियां भी रुकवाई गईं। दर्जनभर से ज्यादा डीजे वालों को पकड़कर डीजे जब्त किए गए। ये डीजे शादियों में बजाए जाते और भीड़ उनके आसपास जमा होती है। ऐसे में प्रशासन ने शादियों पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगाने का फैसला लिया है। ये प्रतिबंध 15 मई की रात 12 बजे तक रहेगा।

सब्जी, फल और दूध व डेयरी उत्पाद की दुकानें सुबह 10 बजे तक खुल सकेंगी

होटल व्यवसाय पूरी तरह प्रतिबंधित रहेगा। गांवों में सरपंच, तड़वी सचिव, कोटवार विवाह की सूचना मिलने पर आदेश के उल्लंघन की कार्रवाई करेंगे। इलेक्ट्रीशियन, कारपेंटर, प्लंबर अपने काम के लिए एसडीएम से अनुमति लेंगे। बाकी आदेश पहले की तरह बाजार में दुकानें खुलना प्रतिबंधित रहेगा और बेवजह लोगों काे घरों से बाहर निकलने की भी अनुमति नहीं रहेगी। सब्जी, फल और दूध व डेयरी उत्पाद की दुकानें सुबह 6 से 10 बजे तक खुल सकेंगी। होम डिलीवरी करने के लिए फल, सब्जी वालों को इजाजत होगी। किराना सामान की भी होम डिलीवरी की जा सकेगी। टीकाकरण हर दिन चलता रहेगा। इसके लिए निकलने वालों को इजाजत होगी। हालांकि गुरुवार और शुक्रवार को टीकाकरण नहीं होगा। मेडिकल इमरजेंसी के लिए बाहर निकलने वालों को इजाजत रहेगी। निर्माण क्षेत्र और औद्योगिक इकाइयों के लिए अनुमति रहेगी। कुछ अन्य जरूरी सेवाओं के लिए भी प्रतिबंध में छूट दी गई है।

सख्ती और बढ़ाई जाएगी
कोरोना कर्फ्यू बढ़ाए जाने के साथ प्रशासन ने सख्ती भी ज्यादा बढ़ाने का निर्णय लिया है। गांव में अतिरिक्त रूप से निगरानी रखना होगी। इसके अलावा शहरी क्षेत्रों में भी फोकस किया जाएगा। शहर के अंदर आने वाले सभी रास्तों पर बैरियर लगाकर चेकिंग की जाएगी। चौराहों और मुख्य मार्गों पर आने-जाने वालों से भी उनके निकलने का कारण पता किया जाएगा। उचित कारण नहीं होने पर चालान और खुली जेल भेजने की प्रक्रिया होगी।

खबरें और भी हैं...