पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • Mhow
  • 25 Thousand Days Are Needed Every Day, Three Thousand Are Being Given, So Crowd At Every Center, Distance Is Getting Break

लापरवाही का वैक्सीनेशन:हर दिन चाहिए 25 हजार डाेज, मिल रहे दाे से तीन हजार इसलिए हर सेंटर पर भीड़, ब्रेक हाे रही डिस्टेंस

महू16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
महू. इस तरह वैक्सीन सेंटर पर भीड़ के चलते साेशल डिस्टेंस ब्रेक हुआ। - Dainik Bhaskar
महू. इस तरह वैक्सीन सेंटर पर भीड़ के चलते साेशल डिस्टेंस ब्रेक हुआ।
  • शहर में बंद रहा ताे गांवाें के सेंटर पर उमड़ गई भीड़, दताेदा में ताे सेंटर बनाने के बावजूद वैक्सीन नहीं पहुंची

तहसील में काेराेना वैक्सीनेशन का पूरा सिस्टम पिछले दस दिनाें से गड़बड़ाया हुआ है। तहसील में हर दिन करीब 25 हजार डाेज की जरूरत है। लेकिन जिले से महज दाे से तीन हजार डाेज ही मिल रहे हैं। इसी वजह से हर सेंटर पर लाेगाें की भीड़ उमड़ रही है। जिसके चलते सेंटराें पर साेशल डिस्टेंस ब्रेक हाे रही है।

तहसील में बुधवार काे एक दिन के ब्रेक के बाद करीब दाे हजार डाेज के साथ वैक्सीनेशन का कार्य किया गया। डाेज कम हाेने के चलते स्वास्थ्य विभाग ने महू कैंट एरिया में वैक्सीनेशन का कार्य बंद रखकर सिर्फ ग्रामीण इलाकाें में आठ सेंटर बनाकर वैक्सीनेशन का कार्य किया गया। जिसमें काेदरिया, हरसाेला, मानपुर, दताेदा, आंबाचंदन, गवली पलासिया आदि सेंटर शामिल थे।

इन सेंटराें पर यह स्थिति रही की सुबह से ही वैक्सीन लगाने के लिए लाेगाें की भीड़ उमड़ गई। सेंटराें पर हालात यह थी कि महू कैंट एरिया में वैक्सीनेशन बंद हाेने से यहां के लाेग भी काेदरिया, गवली पलासिया आदि गांवाें में वैक्सीन लगाने के लिए पहुंच गए। जिसके चलते यहां पर जितने डाेज उपलब्ध थे। उससे ज्यादा लाेगाें की भीड़ जुट गई। भीड़ जुटने के चलते यहां सेंटर पर साेशल डिस्टेंस भी ब्रेक हाेती रही।

दताेदा में 300 डाेज से हाेना था वैक्सीनेशन, डोज नहीं पहुंचे
दताेदा में स्थानीय स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी सूची के अनुसार 300 काे-वैक्सीन के डाेज के साथ बुधवार काे वैक्सीनेशन हाेना था। लेकिन यहां पर अलसुबह अचानक वैक्सीन नहीं पहुंचने से वैक्सीन का कार्य नहीं किया गया। जिसके चलते यहां पर ग्रामीणाें काे खासी परेशानी का सामना करना पड़ा। बीएमओ डाॅ. याेगेश सिंगारे ने बताया कि अंतिम समय में डाेज नहीं पहुंचने से दताेदा में वैक्सीनेशन का कार्य प्रभावित हुआ।

गवली पलासिया : पीथमपुर से पहुंचे लाेग वैक्सीन लगवाने
यहां गवली पलासिया के सेंटर पर भी जीतने डाेज उपलब्ध थे। उससे ज्यादा लाेगाें की भीड़ यहां वैक्सीन लगाने पहुंच गई। जिससे यहां सेंटर पर लंबी कतार लगने के साथ ही साेशल डिस्टेंस ब्रेक हुआ। यहां पर पीथमपुर से भी बड़ी संख्या में श्रमिक वैक्सीन लगवाने के लिए पहुंच गए। इस वजह से भी यहां भीड़ अधिक बढ़ी।

काेदरिया : पहले धूप फिर बारिश में परेशान हुए लाेग
यहां काेदरिया के सेंटर पर सुबह से ही वैक्सीन लगवाने की उम्मीद में बड़ी संख्या में लाेगाें की भीड़ उमड़ गई। यहां हालात यह थी कि खुले मैदान में टैंट आदि की व्यवस्था नहीं हाेने से लाेग पहले धूप व उमस में परेशान हुए। उसके बाद अचानक बारिश शुरु हाेने से भी उन्हें बरसते पानी में परेशान हाेना पड़ा। यहां पर सेंटर पर माैजूद जिम्मेदाराें ने जीतने डाेज उपलब्ध थे। उतने लाेगाें काे पर्ची बांट दी थी। लेकिन उसके बावजूद लाेग इस उम्मीद से यहां डटे रहे कि देर दाेपहर अतिरिक्त डाेज मिलने के बाद उन्हें वैक्सीन लग सकती है।

खबरें और भी हैं...