पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

हाथ जोड़ मंत्री सिलावट बाेले:पाॅजिटिव रिपाेर्ट आए तो मरीज काे राधा स्वामी सेंटर इंदाैर या गांव के काेविड केयर सेंटर भेजें

महू2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
काेदरिया में मंत्री सिलावट ने हाथ जाेड़कर कहा पाॅजिटिव मरीजाें काे काेविड केयर सेंटर भेजाे। - Dainik Bhaskar
काेदरिया में मंत्री सिलावट ने हाथ जाेड़कर कहा पाॅजिटिव मरीजाें काे काेविड केयर सेंटर भेजाे।

गांवों में काेराेना का कहर तेजी से बढ़ा है। मेरा आपसे हाथ जाेड़कर निवेदन है कि गांव में जाे भी काेराेना पाॅजिटिव मरीज सामने आए ताे उसे घर में रखने की बजाय सीधे या ताे राधा स्वामी काेविड केयर सेंटर इंदाैर या फिर गांव में बनाए काेविड केयर सेंटर में भेजे। यह बात मेरा गांव काेराेना मुक्त अभियान के चलते शनिवार काे काेदरिया गांव में दाैरा करने पहुंचे जलसंसाधन मंत्री तुलसी सिलावट ने ग्रामीणाें से कहीं। इस दाैरान मुख्य रूप से क्षेत्रीय विधायक व पर्यटन मंत्री उषा ठाकुर, कलेक्टर मनीष सिंह, प्रदेश भाजपा महामंत्री कविता पाटीदार, भाजपा जिलाध्यक्ष राजेश साेनकर, एसडीएम अभिलाष मिश्रा, डाॅ. निशांत खरे माैजूद रहे। यहां इंदाैर से सभी अधिकारी सबसे पहले तहसील के गवली पालसिया गांव पहुंचे। यहां पर उन्हाेंने गांव में बन रहे काेविड केयर सेंटर का अवलाेकन किया व ग्रामीणों से गांव में संक्रमण की राेकथाम काे लेकर किए जा रहे कार्याें के बारे में चर्चा की।

युवा बैरिकेडिंग लगाकर बैठे थे, वरिष्ठों से की चर्चा

यहां से काेदरिया पहुंचे। यहां पर तहसील की ग्राम पंचायताें में सबसे ज्यादा पाॅजिटिव केस आए है। यहां उन्हाेंने काेविड केयर सेंटर का अवलाेकन करने के साथ ही मामूली लक्षण वाले मरीजाें काे दी जाने वाले दवाई आदि के बारे में जानकारी ली। इसके बाद वह गांव में प्रवेश के मुख्य स्थल पर पहुंचे।

जहां पर गांव के युवा बैरिकेडिंग लगाकर बैठे थे। उन्हाेंने यहां गांव के युवा व वरिष्ठाे से चर्चा की। उन्हाेंने ग्रामीणाे काे गांव में बेवजह चहल-पहल नहीं हाेने व जनता कर्फ्यू का पालन कराने काे लेकर प्राेत्साहित किया। इसके बाद यहां से सभी अधिकारी मलेंडी गांव, कटकटखेड़ी व सिमराेल पहुंचे। इन गांवाें में भी काेविड केयर सेंटर आदि का अवलाेकन किया। इस दाैरान एसडीओपी विनाेद शर्मा, बड़गाेंदा थाना प्रभारी अजीत सिंह बेस, जनपद सीईओं हेमेंद्र सिंह चाैहान आदि अधिकारी माैजूद रहे।

खबरें और भी हैं...