पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • Mhow
  • Neither The School Nor The TC Are Giving The Result, Nor Is The Answer Asked, Pay The Fees For The First Lockdown

फीस माफी की मांग:स्कूल वाले ना ताे टीसी दे रहे हैं, ना ही रिजल्ट, पूछाे ताे जवाब मिलता है पहले लाॅकडाउन की फीस भराे

महूएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • अभिभावक तहसील कार्यालय पहुंचे, लाॅकडाउन की फीस माफी की मांग का ज्ञापन साैंपा

सर राेज सुबह उठाे ताे हमारे माेबाइल पर सबसे पहला मैसेज ही स्कूल का रहता है। इसमें लिखा हाेता है फीस भराे..., हमें स्कूल ने फीस के नाम पर बहुत ज्यादा तनाव में डाल दिया है। हम में से कई लाेग ताे स्कूल प्रबंधक के पास गए कि हम फीस नहीं भर सकते, हमारे बच्चों की टीसी दे दाे.., ताे हमें वहां से हर बार जवाब मिला की जब तक लाॅकडाउन की फीस नहीं भराेगे तब तक आपके बच्चाें की टीसी भी नहीं मिलेगी। यह बात साेमवार काे लाॅकडाउन की फीस माफ करने की मांग काे लेकर तहसील कार्यालय पहुंचे सेंटमेरी स्कूल व राजेश्वर स्कूल के अभिभावकाें ने एसडीएम अभिलाष मिश्रा से कही।

अभिभावकाें ने सेंटमेरी स्कूल का नाम लेकर कहा कि कल हमारे बच्चाें का रिजल्ट है। हमने स्कूल से संपर्क किया ताे जवाब मिला की आपके बच्चों का रिजल्ट तब ही मिल सकेगा जब आप लाेगों की फीस भरी हुई हाेगी। इसके अलावा स्कूल ने जाे ऑनलाइन वाट्सग्रुप बनाया था उसमें से भी फीस नहीं भरने काे लेकर हमारे बच्चाें काे स्कूल प्रबंधन ने निकाल दिया है। हम चाहते है कि लाॅकडाउन के दाैरान जब स्कूल लगे ही नहीं ताे उस अवधि की फीस हमारी माफ की जाए। बाकी के सत्र की फीस हम देने काे राजी हैं। इस पर एसडीएम मिश्रा ने स्कूल प्रबंधन से चर्चा कर जल्द ही इस मामले में उचित निर्णय लेने का आश्वासन दिया।

सब आरोप झूठे हैं : प्राचार्य
सेंट मेरी स्कूल की प्राचार्य सिस्टर एल्सा ने कहा कि हम नियमानुसार सिर्फ ट्यूशन फीस ले रहे हैं बाकी सब आरोप झूठे हैं। राजेश्वर स्कूल के प्राचार्य फादर प्रकाश बताते हैं कि हमने पहले ही सालाना फीस का 15 फीसदी हिस्सा माफ कर दिया है। बाकी आरोप गलत है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज समय बेहतरीन रहेगा। दूरदराज रह रहे लोगों से संपर्क बनेंगे। तथा मान प्रतिष्ठा में भी बढ़ोतरी होगी। अप्रत्याशित लाभ की संभावना है, इसलिए हाथ में आए मौके को नजरअंदाज ना करें। नजदीकी रिश्तेदारों...

और पढ़ें