पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • Mhow
  • The Situation Is That The Wait For The Recruitment Of New Patients Is Going On, Do Not Get Out Of The House Unnecessarily

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

काेराेना के बढ़ते संक्रमण:हालात यह कि नए मरीजाें की भर्ती की वेटिंग चल रही, बेवजह घर से बाहर ना निकलें

महूएक दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • सरकारी-निजी अस्पतालाें के सभी 132 बेड फुल, मरीज बढ़े तो मध्यभारत में 15 पलंग और बढ़ाए

तहसील में काेराेना के बढ़ते संक्रमण के चलते स्थिति भयावह हाे गई है। मरीजाें काे बेहतर इलाज के लिए शासकीय अस्पताल के नए भवन में चार दिन पहले बनाए काेविड अस्पताल के सभी 20 बिस्तर बुधवार शाम तक ही भर गए। फिर भी मरीज आने लगे तो प्रशासन को बुधवार रात से लेकर गुरुवार शाम तक 15 बेड और बढ़ाने बढ़ें। वहीं चार निजी अस्पताल में 112 बेड हैं वो भी खाली नहीं है। मध्यभारत अस्पताल के नए मेटरनिटी भवन में जनसहयाेग से प्रशासन ने दो दिन पहले ही काेविड अस्पताल का संचालन शुरू किया है। इसे 56 बिस्तर तक संचालित करना है, लेकिन स्टाॅफ व चिकित्सक नहीं हाेने से अभी पहले चरण में इसे 20 बिस्तर से शुरू किया था। इस 20 बिस्तर वाले अस्पताल की स्थिति ऐसी रही कि तेजी से मिल रहे मरीज से अस्पताल के सभी बेड फुल हाे गए। वहीं बुधवार देर रात से लेकर गुरुवार देर शाम तक अस्पताल में 15 बेड और बढ़ाने पड़े। इसके अलावा शहर के चार निजी अस्पताल में भी 112 बिस्तर पर काेविड मरीजाें काे उपचार दिया जा रहा है। लेकिन वर्तमान में इन सभी अस्पतालाें में मरीजाें के भर्ती हाेने से नए मरीज के लिए जगह नहीं है। निजी अस्पतलाें में हालात यह है कि नए मरीजाें काे भर्ती हाेने के लिए वेटिंग करना पड़ रही है।

ऑक्सीजन लेवल कम हाेने पर एक मरीज पहुंचा तो मध्यभारत में आईसीयू यूनिट में की व्यवस्था

मध्यभारत अस्पताल में बुधवार देर रात किशनगंज क्षेत्र से 73 साल का बुजुर्ग काेविड उपचार के लिए पहुंचा। यहां पर अस्पताल में माैजूद स्वास्थ्यकर्मियाें ने कहा कि अस्पताल में माैजूद सभी बेड फुल हाे गए हैं। इस पर मरीज ने गुहार लगाई कि चाहे जैसे भी हाे उपचार दिलवा दाे। जिसके बाद प्रशासनिक अधिकारियाें से चर्चा कर ताबड़ताेड़ अस्पताल प्रबंधन ने आईसीयू यूनिट में बिस्तर लगाकर मरीज काे उपचार देने के साथ ही ऑक्सीजन सप्लाई दी। जहां पर उसकी हालात बेहतर है।

ऑक्सीजन की शाॅर्टेज नहीं : दाे निजी अस्पताल खुद का वाहन भेजकर बुलवा रहे, मध्यभारत में भी पर्याप्त व्यवस्था
शहर के चार निजी व एक शासकीय अस्पताल में ऑक्सीजन की किसी तरह की शार्टेज नहीं है। शहर के दाे बड़े निजी अस्पताल जहां सबसे ज्यादा काेराेना मरीज उपचाररत है। वह खुद अपना वाहन भेजकर ऑक्सीजन की सप्लाय करवा रहे हैं। इसके अलावा मध्यभारत अस्पताल में भी ऑक्सीजन का पर्याप्त स्टाॅक हाेने से किसी तरह की शार्टेज नहीं है।

रेमडेसिविर की शाॅर्टेज
अब चिकित्सक के प्रिसकिप्शन के बाद ही लाेगाें काे मिल सकेगा

शहर में रेमडेसिविर की जरूर बुधवार व गुरुवार काे शार्टेज हुई। वहीं अब जिला प्रशासन के निर्णय के बाद अब यह इंजेक्शन शहर में मेडिकल दुकान संचालक सिर्फ उन्हीं लाेगाें काे देंगे। जिनके पास डाॅक्टर का प्रिसकिप्शन हाेगा। इसके अलावा मध्यभारत अस्पताल में इस इंजेक्शन की शार्टेज नहीं हुई। यहां पर अस्पताल शुरू हाेने से पहले ही प्रशासन ने इसका स्टाॅक किया था। जिससे शासकीय अस्पताल में भर्ती मरीजाें काे यह इंजेक्शन आसानी से मिलता रहा।

शहर के अस्पतालाें में काेविड मरीजाें के बेड की स्थिति
अस्पताल कुल बेड भरे बेड

मध्यभारत 35 35
मेवाड़ा 38 38
गेटवेल 38 38
एमएनएच 16 16
तिवारी 20 20​​​​​​​


खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज का दिन मित्रों तथा परिवार के साथ मौज मस्ती में व्यतीत होगा। साथ ही लाभदायक संपर्क भी स्थापित होंगे। घर के नवीनीकरण संबंधी योजनाएं भी बनेंगी। आप पूरे मनोयोग द्वारा घर के सभी सदस्यों की जरूर...

    और पढ़ें