पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जाेखिम भरा पर्यटन:चाेरल डेम के पिंचिंग एरिया ताे जाम दरवाजा की छत की मुंडेर पर नजर आए पर्यटक,पैर फिसलते ही हाे सकता था बड़ा हादसा

महू6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • नए साल का पहला रविवार आज, पर्यटन स्थलाें पर पहुंचेंगे सैलानी, सुरक्षा बंदाेबस्त पर ध्यान देने की जरूरत

नए साल के दिन बड़ी संख्या में तहसील के प्रमुख पर्यटन स्थलाें पर सैलानी उमड़े। लेकिन यहां पर तफरीह करने वाले जाेखिम भरे स्थान पर आसानी से पहुंचे रहे। लेकिन उन्हें राेकने वाला प्रशासन का काेई भी जिम्मेदार अधिकारी नजर नहीं आया।

नए साल पर तहसील के प्रमुख पर्यटन स्थल चाेरल डेम, जाम दरवाजा आदि स्थानों पर बड़ी संख्या में सुबह से ही सैलानियाें का जमघट लग गया था। इस दाैरान सैलानी पर्यटन स्थलों के उन खतरनाक स्थानाें पर भी जाेखिम उठाते हुए नजर आए। जहां पर जार सी भी चूक से दुर्घटना की संभावना बनी हुई थी।

वहीं प्रशासन व पुलिस की इन स्थानाें पर खासी अनदेखी नजर आई। हालात यह रह की जाेखिम वाले स्थानों पर पर्यटकाें काे राेकने के लिए किसी तरह का जिम्मेदार अधिकारी माैके पर माैजूद नही रहा। चाेरल डेम व जाम दरवाजा पर सैलानियाें के जाेखिम भरे नजारे काे भास्कर ने कवर किया।

चाेरल डेम : पिंचिंग वाली खड़ी चढ़ाई पर बैठे महिलाएं और बच्चे, पैर फिसलते ही सीधे पानी में गिर सकते थे
चाेरल डेम पर पिंचिंग वाली खड़ी चढ़ाई पर पर्यटक बैठे रहे। यह स्थान इतना खतरनाक है कि यहां पर सीधे खड़ी चढ़ाई है व इसकी ढलान डेम के पानी में जा रही है। यहां करीब 500 मीटर के एरिया में पिंचिंग में पर्यटक बैठकर सेल्फी लेते रहे। ऐसे में अगर पर्यटकाें का जरा सा भी पैर फिसलता ताे वह सीधे पानी में गिर सकते थे। यहां खतरनाक स्थान पर महिलाएं व बच्चे भी बैठे नजर आए।

प्रशासन पुख्ता बंदाेबस्त रखे
नए साल का पहला रविवार रहेगा। इस दिन भी बड़ी संख्या में सैलानी इन पर्यटन स्थलाें पर पहुंचेंगे। ऐसे में प्रशासन काे चाहिए की वह रविवार काे यहां पर पुख्ता बंदाेबस्त रखे। जिससे सैलानी यहां पर जाेखिम वाले स्थानाें पर नहीं पहुंच सकें।

जाम दरवाजा : छत की मुंडेर पर ले रहे थे सेल्फी, पैर फिसला ताे सीधे 20 फीट नीचे गिर सकते थे सैलानी
जाम दरवाजा की छत की मुंडेर पर बड़ी संख्या में सैलानी माैजूद रहे। यहां हालात यह रही की मुंडेर पर कम जगह में बड़ी संख्या में सैलानी नजर आए। यह सभी सेल्फी लेने में लगे रहे। ऐसे में अगर जरा सा भी पैर फिसलता ताे पर्यटक सीधे दरवाजा की छत से 20 फीट नीचे गिर सकते थे। यहां पर भी पर्यटकाें काे जाेखिम लेने से राेकने के लिए काेई जिम्मेदार नजर नहीं आया।

वहां पर सुरक्षा बंदाेबस्त कड़े किए जाएंगे
इस बारे में एसडीएम अभिलाष मिश्रा का कहना है कि पर्यटन स्थलाें के खतरनाक एरिया में पर्यटक नहीं पहुंचे। इसकाे लेकर सभी पर्यटन स्थलाें पर सुरक्षा बंदाेबस्त कड़े किए जाएंगे।

खबरें और भी हैं...