• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • 1343 New Cases In Indore, All Schools Closed Till 12th January, Fairs, Processions And Rallies Banned

पाबंदियां रिटर्न:इंदौर में 1343 नए केस, 12वीं तक सभी स्कूल 31 जनवरी तक बंद, मेले, जुलूस और रैली प्रतिबंधित

इंदौर/भोपाल6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
केस बढ़ने के साथ घट गई थी उपस्थिति। - Dainik Bhaskar
केस बढ़ने के साथ घट गई थी उपस्थिति।

शहर में शुक्रवार को 1343 नए कोरोना मरीज मिले। बढ़ते संक्रमण को देखते हुए प्रदेश सरकार ने नए सिरे से पाबंदियां बढ़ा दी हैं। कक्षा 1 से 12वीं तक के सभी स्कूल 15 से 31 जनवरी तक बंद रहेंगे। इन कक्षाओं के होस्टल भी बंद कर दिए गए हैं। शुक्रवार को क्राइसिस मैनेजमेंट की बैठक में कलेक्टर्स, सांसद व विधायकों ने ही स्कूल बंद करने का सुझाव दिया था। इसके बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने उक्त आदेश दिए।

इसके अनुसार, 20 जनवरी से प्रस्तावित स्कूलों की प्री- बोर्ड परीक्षा अब टेक होम एग्जाम के रूप में आयोजित की जाएंगी। व्यापमं की परीक्षाएं तय कार्यक्रम के अनुसार होंगी। सभी काॅलेजों में परीक्षाएं ऑफलाइन व 50% क्षमता के साथ होंगी। आरजीपीवी की परीक्षाएं ऑनलाइन रहेंगी। 23 दिसंबर से लागू रात 11 से सुबह 5 बजे तक का नाइट कर्फ्यू जारी रहेगा।

खेल आयोजनों में दर्शकों को अनुमति नहीं

सभी प्रकार के मेले (वाणिज्यिक या धार्मिक) प्रतिबंधित रहेंगे। हालांकि मकर संक्रांति स्नान पर रोक नहीं रहेगी। इसके अलावा राजनीतिक व सामाजिक जुलूस, रैलियां नहीं निकाली जाएंगी। सभी खेल गतिविधियां बगैर दर्शकों के ही हो सकेंगी। रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड व एयरपोर्ट पर कोविड टेस्ट की व्यवस्था करने को कहा गया है।

परीक्षाएं- कॉलेजों में ऑफलाइन व 50% क्षमता से, RGPV व व्यापमं के घोषित कार्यक्रम से

  • कक्षा 1 से 12वीं तक के सरकारी और निजी स्कूल एवं होस्टल 31 जनवरी तक बंद रहेंगे।
  • कक्षा 1 से 12वीं तक के सरकारी और निजी स्कूल एवं होस्टल 31 जनवरी तक बंद रहेंगे।
  • कक्षा 1 से 12वीं तक के सरकारी और निजी स्कूल एवं होस्टल 31 जनवरी तक बंद रहेंगे।
  • राजनीतिक, सांस्कृतिक, धार्मिक, सामाजिक, शैक्षणिक मनोरंजन आदि के आयोजनों में 250 व्यक्तियों से अधिक की उपस्थिति प्रतिबंधित रहेगी।
  • बंद हॉल में स्थान की क्षमता के 50 प्रतिशत से कम की उपस्थिति के ही कार्यक्रम आयोजित किए जा सकेंगे।
  • खेलकूद संबंधी गतिविधियों के लिए स्टेडियम की क्षमता के 50% से अधिक की उपस्थिति के आयोजन प्रतिबंधित रहेंगे।

अब फिर ऑनलाइन ही होगी 12वीं तक की पढ़ाई

  • 30 मार्च 2021 से स्कूल दूसरी लहर के चलते बंद किए थे।
  • 1 सितंबर को छठी से 12वीं तक स्कूल चालू हुए 50% क्षमता से
  • 14 सितंबर को पहली से 5वीं तक के स्कूल 50% क्षमता से चालू हुए
  • 14 सितंबर को 8वीं से 12वीं तक के स्कूल 100 फीसदी क्षमता से शुरू
  • 14 जनवरी 2022 को सभी स्कूल फिर बंद कर दिए 31 जनवरी तक
खबरें और भी हैं...