पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

देवी अहिल्या विश्वविद्यालय:बैकलॉग के 45 पद भरने के बाद भी खाली रहेंगे 150 पद

इंदौर3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
212 पद खाली, 2009 के बाद 3 बार प्रक्रिया चली, आगे नहीं बढ़ी  - Dainik Bhaskar
212 पद खाली, 2009 के बाद 3 बार प्रक्रिया चली, आगे नहीं बढ़ी 

देवी अहिल्या यूनिवर्सिटी टीचिंग विभाग के बैकलॉग के 45 पदों को भरने के लिए विज्ञापन जारी कर चुकी है। वह इस साल के अंत तक टीचिंग के ही बाकी खाली पदों को भी भरने की तैयारी कर रही है। राजभवन इस मामले में पहले ही निर्देश दे चुका है। डीएवीवी में कुल 212 पद खाली हैं। 45 पद भरने के बाद भी यूनिवर्सिटी के 33 टीचिंग विभागों में पौने दो सौ के आसपास पद खाली रहेंगे।

इनमें आईईटी, आईआईपीएस, आईएमएस, स्कूल ऑफ लॉ, स्कूल ऑफ कॉमर्स और ईएमआरसी जैसे विभाग में सबसे ज्यादा पद खाली हैं। बताते हैं कि इन पदों पर भर्ती के प्रयास शुरू कर दिए गए। प्रशासन का कहना है कि शासन की तरफ से पहले बैकलॉग के पद भरने को कहा गया था। दरअसल, डीएवीवी में 12 साल में 35 प्रोफेसर रिटायर हुए हैं, वहीं 15 से ज्यादा की मौत हो चुकी है।

कुछ कुलपति बनकर यहां से चले गए हैं, लेकिन इन सबके बावजूद एक भी नई नियुक्ति नहीं हो पाई है। ऐसे में बैकलॉग के पदों सहित कुल 212 पद खाली हैं। डीएवीवी में अंतिम बार नियुक्ति डॉ. अजीत सिंह सेहरावत के समय 2009 में हुई थी।

उसके बाद 3 बार प्रक्रिया चली, मगर नियुक्ति नहीं हो पाई। 2014 और 2016 में हजारों आवेदन आए, लेकिन प्रक्रिया पूरी नहीं हो पाई। इसके पीछे कई तकनीकी कारण बताए गए हैं। अभी जो पद भरे जा रहे हैं, उनमें प्रोफेसर, लेक्चरर, असिस्टेंट रजिस्ट्रार के पद हैं।

खबरें और भी हैं...