पुलिस में प्रमोशन:इंदौर के 13 सहित प्रदेश के 150 टीआई बने डीएसपी, चार माह से चल रही थी प्रक्रिया, वेटिंग वालों को इंतजार

इंदौर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

चार महीने से चल रही कवायद के बाद सोमवार रात को प्रदेशभर से 150 थाना प्रभारियों को प्रमोट कर डीएसपी बना दिया गया है। पुलिस मुख्यालय से जारी लिस्ट में इंदौर के भी 12 टीआई हैं, लेकिन वेटिंग में 100 से ज्यादा टीआई हैं, जिनमें 30 से ज्यादा अब डीएसपी प्रमोशन के योग्य हो गए हैं। वे भी अब नई लिस्ट के इंतजार में हैं, जबकि उन्हें उम्मीद थी कि इतने दिनों से पेंडिंग लिस्ट में उनका भी नाम जोड़ा जा सकेगा। प्रदेशभर में खाली 250 पड़े डीएसपी के पद पर सोमवार को 150 थाना प्रभारियों को पदोन्नत किया गया है, जबकि इसके लिए 250 थाना प्रभारियों को चुना गया था।

फिर स्क्रूटनी हुई, जिसमें 150 टीआई को चिह्नित किया गया। बाकी के 100 को किसी कारणवश रोक दिया गया, लेकिन 1 जुलाई को 30 टीआई भी डीएसपी के योग्य हो गए थे। इसके बाद भी विभाग ने उन्हें इस कैटेगिरी में नहीं लिया। इसके बाद से वे थाना प्रभारी भी गृह मंत्रालय और पुलिस मुख्यालय में अपने स्तर पर लिस्ट में नाम जुड़वाने के लिए लगे थे, लेकिन सोमवार को आई लिस्ट ने उन्हें निराश कर दिया।

अधिकारियों की नई पदस्थापना

विनोद दीक्षित एमआईजी से डीएसपी जिला विशेष शाखा इंदौर, राजीव भदौरिया कनाड़िया से डीएसपी उज्जैन, दिलीप चौधरी इंदौर से डीएसपी जेएबी अअवि इंदौर जोन, अनिल चौहान सांवेर से डीएसपी कानून व्यवस्था इंदौर, हितेंद्र राठौर लाइन से डीएसपी कानून व्यवस्था इंदौर, धैर्यशील येवले पीटीसी से डीएसपी पीटीसी इंदौर, अजीत सिंह बैस बड़गोंदा से डीएसपी कानून व्यवस्था इंदौर, मधुर वीना गौर फायर से डीएसपी रेडियो, संगीता जोशी पीटीसी से डीएसपी रेडियो, राकेश गुरगेला इंदौर से डीएसपी कानून व्यवस्था इंदौर, नंदराम एमटी, पीटीसी से डीएसपी पीटीसी इंदौर, जेएस यादव पुमनि कार्यालय से डीएसपी पुमनि. इंदौर जोन और रजनीश भार्गव बिसवल से सहा. सेनानी ग्वालियर शामिल हैं।

खबरें और भी हैं...