• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • 3 Thousand Complaints Of Power Shutdown In The City Pending, Consumers Upset Due To Counter Closure

बिजलीकर्मियों की हड़ताल से काम ठप:शहर में बिजली बंद की 3 हजार शिकायतें पेंडिंग, काउंटर बंद होने से उपभोक्ता परेशान

इंदौर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
हड़ताल के दौरान नारेबाजी करते ब - Dainik Bhaskar
हड़ताल के दौरान नारेबाजी करते ब

मप्र विद्युत अधिकारी कर्मचारी संयुक्त मोर्चा के आह्वान पर शनिवार को प्रदेशव्यापी काम के बहिष्कार के चलते इन्दौर शहर के 30 _जोनों में बिजलीकर्मियों ने काम बंद कर दिया। इससे शहर के 3 हजार घरों में बिजली बंद होने से अंधेरा छाया रहा, लोग परेशान होते रहे तथा बिजली जोन में फोन लगाते रहे। बिजलीकर्मियों द्वारा काम नहीं करने से प्रदेश के अधिकांश ऑफिसों के ताले तक नहीं खुले ।

मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष जीके वैष्णव, संयोजक कुलदीपसिंह गुर्जर, कार्यकारी अध्यक्ष सुशील पांडे व उपाध्यक्ष शिव राजपूत ने बताया कि संयुक्त मोर्चा द्वारा कई माह से मुख्यमंत्री, ऊर्जा मंत्री तथा बिजली कंपनियों के डायरेक्टर को हमारी मांगों से अवगत कराया। इनमें इलेक्ट्रिसिटी अमेंडमेंट बिल 2021 को संसद में पारित नहीं करने, बिजली कंपनियों के निजीकरण पर रोक लगाने, संविदाकर्मियों को नियमित करने, ऑउट सोर्स कर्मियों का संविलियन करने, बिजलीकर्मियों को कोरोना योद्धा घोषित कर परिवार को 50 लाख की आर्थिक सहायता प्रदान करने, बिना शर्त अनुकंपा नियुक्ति प्रदान करने व बिजलीकर्मियों को केंद्र के अनुरूप 28 फीसदी महंगाई भत्ता दिए जाने को लेकर 5 सूत्रीय मांग पत्र शासन को भेजा लेकिन शासन द्वारा ध्यान नहीं दिया जा रहा है।

शनिवार एक दिनी काम का बहिष्कार संपूर्ण प्रदेश में किया गया। इसके चलते इन्दौर क्षेत्र कंपनी की लगभग 3 हजार शिकायतें पेंडिंग रही। इंदौर के अलावा धार, झाबुआ खरगोन, खण्डवा, बड़वानी, बुरहानपुर एवं ग्रामीण क्षेत्रों में काम बहिष्कार किया गया व सभी कार्यालय बंद रहे जिससे उपभोक्ता परेशान होते रहे लेकिन देर रात तक शिकायतों का निराकरण नहीं हो सका। मोर्चा ने मांगों का निराकरण नहीं होने पर 13 अगस्त से अनिश्चितकालीन आंदोलन की चेतावनी दी है।

खबरें और भी हैं...