पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

एक और जामताड़ा:चार गांवों के 5 हजार युवा रोज खेतों में करते हैं लाखों की साइबर ठगी

इंदौर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • एडीजी का फर्जी अकाउंट बनाने वाले आरोपी ने कबूला

एडीजी वरुण कपूर का फर्जी सोशल मीडिया अकाउंट बनाने वाले बिहार के नालंदा जिले के कतरी सराय से पकड़े गए 25 वर्षीय आरोपी अखिलेश ने खुलासा किया है करीब पांच हजार लोग रोज फर्जी फेसबुक अकाउंट, फर्जी विज्ञापन, नौकरी, एस्कॉर्ट सर्विस, प्ले बॉय सर्विस और स्पूफ कॉलिंग कर लाखों की ठगी करते हैं। आईजी हरिनारायणाचारी मिश्र ने बताया कि 15 दिन से क्राइम ब्रांच बिहार के नालंदा व कतरी सराय में इंदौर में दर्ज हुई फर्जी फेसबुक आईडी, नौकरी के नाम पर झांसा देकर धोखाधड़ी व अन्य सायबर क्राइम की अलग-अलग शिकायतों पर पड़ताल कर रही थी, लेकिन जैसे ही टीम वहां पहुंची तो पाया कि इस इलाके के चार गांव के पांच हजार युवक रोज सुबह 8 बजे घर से मोबाइल, फर्जी सिम और लैपटॉप लेकर ठगी करते हैं।

आरोपी ने पांच साथियों के नाम और कबूल किए
आईजी ने बताया कि आरोपी अखिलेश ने इलाके के पांच आरोपियों के नाम कबूले हैं। हमारी कुछ टीमें इसकी गैंग के आरोपियों से शहर में हुई इस तरह की वारदातों में साक्ष्य जुटाने की कोशिश में लगी हैं। जल्द ही गैंग के अन्य बदमाशों को भी गिरफ्तार किया जाएगा।

दिल्ली सहित कई राज्यों की पुलिस भी वहां डटी
आईजी ने कहा वहां सिर्फ मप्र नहीं, बल्कि पंजाब, राजस्थान, गुजरात व दिल्ली के पुलिस अधिकारियों की टीम भी साइबर क्राइम को लेकर डटी हैं। इस इलाके के बदमाश कुछ समय पहले तक दिल्ली में बैठकर वारदातें करते थे, लेकिन लॉकडाउन के बाद से गांव में ही सक्रिय हैं। हर एक युवा ने फर्जी बैंक खाते, फर्जी सिम व फर्जी नाम से मोबाइल नंबर ले रखे हैं।

खबरें और भी हैं...