इंदौर में 100 करोड़ की जमीन मुक्त कराई:रिवाज और प्रेम बंधन मैरिज गार्डन समेत 80 दुकानों को JCB से तोड़ा, माफिया ने सीलिंग की जमीन पर कर रखा था कब्जा

इंदौर9 महीने पहले

इंदौर जिला प्रशासन, पुलिस और नगर निगम की संयुक्त टीम ने भू-माफिया के खिलाफ दोबारा मुहिम शुरू कर दी है। शुक्रवार सुबह कनाडिया रोड पर बने रिवाज और प्रेम बंधन मैरिज गार्डन समेत सीलिंग की जमीन पर बनी 80 दुकानों को JCB से तोड़ दिया। कार्रवाई के लिए ADM, SDM, तहसीलदार, नगर निगम के बिल्डिंग अधिकारी सहित 150 कर्मचारी लगाए गए थे। एहतियातन पुलिस फोर्स भी मौजूद रही। यह सभी अवैध निर्माण सीलिंग की जमीन पर बने थे।

बताया जा रहा है कि नगर निगम कमिश्नर प्रतिभा पाल ने अवैध कब्जा हटाने के लिए अधिकारियों-कर्मचारियों सहित करीब 150 लोगों की टीम बनाई थी। टीम को गुरुवार शाम को कार्रवाई की जानकारी दे दी गई थी। सुबह टीम काफी संख्या में JCB और बुलडोजर लेकर पहुंची। अपर कमिश्नर संदीप सोनी के नेतृत्व निगम ने पहले ही जमीन की स्थिति जानकारी निकाल ली थी, जिसमें पता चला कि मैरिज गार्डन और दुकानों का निर्माण सीलिंग की जमीन पर बना हुआ है।

सीलिंग की जमीन पर बनीं अवैध दुकानें, जिन्हें तोड़ा गया।
सीलिंग की जमीन पर बनीं अवैध दुकानें, जिन्हें तोड़ा गया।

मुक्त जमीन की कीमत 100 करोड़ रुपए
एंटी माफिया अभियान में जो जमीन मुक्त कराई गई है, उसकी कीमत 100 करोड़ रुपए आंकी गई है। बताया जा रहा है कि दोनों मैरिज गार्डन और दुकानों का निर्माण भू-माफिया खजराना निवासी सलीम पटेल सोहराब पटेल और यूनुस पटेल ने कराया था। यह परिवार इस रोड की शासकीय सीलिंग की जमीन पर अवैध गुमटियां लंबे समय से लगवाते थे। यही नहीं इस रोड पर ठेले लगाने वालों से भी वसूली करते थे। नगर निगम को फर्जी दस्तावेज प्रस्तुत करने के आरोप में सलीम पटेल के खिलाफ एफआईआर भी दर्ज कराई जा रही है।

प्रेम बंधन गार्डन को JCB से तोड़ा गया।
प्रेम बंधन गार्डन को JCB से तोड़ा गया।

बडे़ नेता और अधिकारियों का था साथ
युनूस पटेल ओर सोहराब व सलीम लंबे समय से राजनीति से जुड़े रहे हैं। पहले कांग्रेस से संपर्क में और फिर शिवराज सरकार के, भाजपा के कुछ नेताओं के साथ तीनों का उठना-बैठना है। बताया जाता है कि कमलनाथ सरकार के दौरान तीनों भाई निगम के साथ जिला प्रशासन के कई सीनियर अधिकारियों के संपर्क में रहे थे। उस दौरान अवैध निर्माण को लेकर इनके खिलाफ शिकायत भी की गई, लेकिन प्रशासन ने कोई कार्रवाई नहीं की। दो महीने पहले इंदौर के प्रभारी मंत्री बदलने के साथ इनकी फाइल खुल गई।

अवैध कब्जे को हटाती निगम की टीम।
अवैध कब्जे को हटाती निगम की टीम।

सुबह-सुबह भारी पुलिस बल देख सहम गए लोग
सुबह 5:30 बजे जब कनाडिया क्षेत्र के लोग मॉर्निंग वॉक के लिए निकले तो सैकड़ों पुलिस अधिकारियों, जिला प्रशासन, नगर निगम के अधिकारियों और नगर निगम के अमले को देखकर डर गए। लोगों को लगा कि क्षेत्र में कोई बड़ी घटना हो गई है। लोग एक-दूसरे से पूछ रहे थे कि क्या हुआ है। बाद में पता चला कि क्षेत्र में अवैध रूप से बनाए गए दो मैरिज गार्डन को तोड़ने के लिए इतना पुलिस और नगर निगम का बल तैनात किया गया है।

मैरिज गार्डन को ध्वस्त करती JCB
मैरिज गार्डन को ध्वस्त करती JCB

खबरें और भी हैं...