पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पहले कोरोना से बचाव का सबक:साढ़े 5 माह बाद कॉलेजों में ऑफलाइन पढ़ाई का आज से फिर श्रीगणेश

इंदौरएक दिन पहले
  • कॉपी लिंक
शासकीय कला एवं वाणिज्य महाविद्यालय। - Dainik Bhaskar
शासकीय कला एवं वाणिज्य महाविद्यालय।
  • गेट पर ही चेक करेंगे वैक्सीन सर्टिफिकेट, फिर क्लास में एंट्री

साढ़े 5 माह बाद कॉलेजों में ऑफलाइन पढ़ाई का श्रीगणेश बुधवार से फिर होगा। कोरोना की दूसरी लहर के चलते 31 मार्च 2021 से कॉलेजों पर भी ताले डल गए थे। कोरोना की पहली लहर के बाद जनवरी 2021 में पहली बार कॉलेजों में ऑफलाइन कक्षाएं लगी थीं, जो मार्च 2021 तक जारी रही थीं। कोरोना की दूसरी लहर में लॉकडाउन के चलते तीन माह खुले रहे कॉलेज फिर बंद हो गए थे।

ऑफलाइन कक्षाओं में एक बेंच पर एक छात्र को बैठाया जाएगा। कॉलेज में प्रवेश के लिए वैक्सीनेशन अनिवार्य है। कॉलेज के मेन गेट पर सबसे पहले थर्मल स्क्रीनिंग होगी। कोविड सर्टिफिकेट और मास्क की चेकिंग होगी। इसके बाद एंट्री मिलेगी। ज्यादातर सरकारी कॉलेजों में शुरू के कुछ दिन सिर्फ यूजी फाइनल ईयर और पीजी अंतिम सेमेस्टर की ही ऑफलाइन पढ़ाई होगी। अगले हफ्ते से बाकी क्लास भी लगना शुरू हो जाएंगी। हर दिन 50 फीसदी उपस्थिति के साथ ऑफलाइन पढ़ाई होगी।

ऑफलाइन के साथ ऑनलाइन क्लास भी

होलकर, जीएसीसी में ऑफलाइन के साथ ऑनलाइन क्लास भी लगेगी। ऑफलाइन क्लास में जो पढ़ाया जाएगा, उसका लाइव ऑनलाइन क्लास के लिए भी होगा। पहले चरण में सिर्फ यूजी फाइनल ईयर और पीजी फाइनल सेमेस्टर के छात्रों को होस्टल में एंट्री दी जाएगी। शहर के जिन कॉलेजों में बसों की सुविधा है, उसको लेकर फिलहाल असमंजस की स्थिति है। अभी इस संबंध में कॉलेज प्रबंधन प्रशासन से चर्चा के बाद निर्णय लेगा।

गाइडलाइन जांचने के लिए औचक निरीक्षण करेंगे

हर कॉलेज को शासन की संपूर्ण कोविड गाइडलाइन मानना होगी। इसके लिए अचानक किसी भी कॉलेज में टीम निरीक्षण भी करने जा सकती है।
- डॉ. सुरेश सिलावट, अतिरिक्त संचालक, उच्च शिक्षा

खबरें और भी हैं...