खरगोन जेल में दोस्ती, इंदौर में बाइक चोरी:शाम होते ही पहुंच जाते थे इंदौर, फुटपाथ पर सोने का करते थे नाटक, इलाका सुनसान होते ही बाइक चोरी कर हो जाते थे फरार

इंदौर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
एमआईजी थाने में आरोपी। - Dainik Bhaskar
एमआईजी थाने में आरोपी।

इंदौर की MIG पुलिस ने दो पुराने बाइक चोरों को गिरफ्तार किया है। इनके पास से पुलिस ने 5 बाइक भी बरामद की हैं। बाइक चोरी के मामले में खरगोन जेल में सजा काट रहे दोनों की दोस्ती हुई थी। छूटने के बाद इन्होंने इंदौर को अपना ठिकाना बनाया। यहां पर यह दोनों सुनसान इलाके के फुटपाथ पर सो जाते थे और मौका देखकर बाइक को चोरी कर लेते थे। दोनों सीसीटीवी में कैद हुए तो पुलिस ने इन्हे गिरफ्तार कर लिया।

एमआईजी पुलिस ने ऐसे दो वाहन चोरों को पकड़ा है। जो पुलिस ने बचने के लिए फुटपाथ पर सो जाते थे ओर रात के अंधेरे में शहर से बाइक चुराकर रफूचक्कर हो जाते थे। दोनों की जेल में ही पहचान हुई थी और कुछ माह पहले ही जेलों से छूटकर इंदौर आए थे।

पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर बबलू पुत्र मालसिंह भिलाला निवासी ग्राम अतर सुम्बा सनावद और रोहित पुत्र भूवानसिंह डाबर निवासी ग्राम डेहरी को पकड़ा है। आरोपियों के पास से एमआईजी, परदेशीपुरा व विजय नगर इलाके से चोरी की गईं पांच बाइकों को जब्त किया है।

शंका ना हो इसलिए फुटपाथ पर सो जाते थे चोर

रोहित कुछ दिन पहले खंडवा और बबलू उज्जैन की जेल में वाहन चोरी के मामले में ही छूटे है। दोनों इसके पहले साथ में खरगोन में एक साथ जेल में बंद थे। यहां उनकी पहचान हुई थी। जेल से छूटने के बाद आरोपियों ने इंदौर को अपना निशाना बनाया। वह शाम के समय शहर में आ जाते थे। अपनी बाइक पार्किंग में खड़ी कर फुटपाथ पर सो जाते थे। इसके बाद रात में सुनसान होने पर वारदात को अंजाम देकर निकल जाते थे। रोहित ओर बबलू ने मास्टर चाबियों से लॉक खोलने की बात बताई है। इन दोनों से पुलिस द्वारा पूछताछ की जा रही है।

खबरें और भी हैं...