इंदौर में नहीं मिल पाए दो दिग्गज:श्यामा प्रसाद मुखर्जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण करने पहुंचे भाजपाई, कैलाश विजयवर्गीय के जाने के 15 मिनट बाद सिलावट के साथ पहुंचे सिंधिया

इंदौरएक वर्ष पहले
माल्यार्पण के दौरान रमेश मेंदोला दिखे सिंधिया के साथ

राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया मालवा अंचल में तीन दिवसीय दौरे पर निकले थे, लेकिन इंदौर से उज्जैन पहुंचे सिंधिया को दिल्ली हाई कमान से फोन आने के बाद सभी कार्यक्रम निरस्त कर दिए गए। मंत्रिमंडल विस्तार की सूचना मिलते ही सिंधिया दोपहर साढ़े तीन बजे इंदौर से दिल्ली के लिए रवाना हो गए।

इससे पहले सिंधिया इंदौर में डॉक्टर श्यामा प्रसाद मुखर्जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। उन्होंने कहा मैं जनसेवक हूं। माहमारी के दौरान हुई क्षति को लेकर प्रदेशवासियों और कार्यकर्ताओं के बीच 11 दिनों से मुलाकात कर रहा हूं। सिंधिया के पहुंचने से 15 मिनट पहले डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी की प्रतिमा पर कैलाश विजयवर्गीय माल्यार्पण कर निकले थे। जिससे प्रतिमा स्थल पर कैलाश विजयवर्गीय और ज्योतिरादित्य सिंधिया का राजनीतिक रूप से मिलन नहीं हो सका।

सिंधिया सुबह विजय नगर चौराहे पर स्थित स्वर्गीय डॉक्टर श्यामा प्रसाद मुखर्जी की जन्म जयंती पर माल्यार्पण करने पहुंचे। यहां उन्होंने कार्यकर्ताओं समेत बीजेपी पदाधिकारियों से भी चर्चा की। इस दौरान मीडिया से चर्चा करते हुए उन्होंने स्वयं को राष्ट्रीय सेवक बताते हुए कहा- वह एक जनसेवक हैं। जनसेवक को सुख में भले ही हम रहे या ना रहे, लेकिन दुख के समय लोगों के साथ रहना चाहिए। इसी के साथ नेमावर हत्याकांड पर उनका कहना था कि शिवराज सिंह के नेतृत्व में सरकार ने तुरंत एक्शन लिया है, जिसमें आरोपियों को गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे कर दिया गया है। कोई भी दोषी को बख्शा नहीं जाएगा।

इंदौर में ज्योतिरादित्य सिंधिया बीजेपी कार्यकर्ताओं के साथ।
इंदौर में ज्योतिरादित्य सिंधिया बीजेपी कार्यकर्ताओं के साथ।

इंदौर से दिल्ली रवाना हुए सिंधिया

मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर लगभग सभी नाम तय कर लिए गए हैं और उन्हें बुलावे भी भेज दिए गए हैं। सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया भी बुलावे के बाद दिल्ली के लिए रवाना हो गए। हालांकि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा अगले 3 दिन तक होने वाली बैठकें रद्द किए जाने के चलते मंत्रिमंडल विस्तार पर संशय बढ़ गया था।

भाजपाध्यक्ष जेपी नड्डा द्वारा मंत्रिमंडल में शामिल होने वाले नेताओं को फोन पर सूचना दिए जाने के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया, नारायण राणे, आरसी सिंह, सर्वानंद सोनोवाल, पशुपति पारस, अनुप्रिया पटेल का दिल्ली पहुंचना शुरू हो गया है। ज्योतिरादित्य सिंधिया ने सुबह उज्जैन में महाकाल दर्शन किए। शाम को इंदौर में प्रमोद टंडन के यहां विवाह समारोह में शामिल होने वाले थे, लेकिन दिल्ली दौरे के कारण सभी कार्यक्रम निरस्त हो चुके हैं।