पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

ऐसी गलती न करें:बर्थ-डे पार्टी, पूजा में शामिल हुए, बाहर खाना खाया, पूरे परिवार को कोरोना

इंदौरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मनमानी भारी पड़ रही : प्रतिबंध के बाद भी सार्वजनिक होली - Dainik Bhaskar
मनमानी भारी पड़ रही : प्रतिबंध के बाद भी सार्वजनिक होली
  • शहर में कोरोना के केस लगातार बढ़ रहे हैं, ऐसे में घर में ही सुरक्षित रहेंगे, बाहर निकलें तो मास्क लगाएं, सोशल डिस्टेंस बनाए रखें

कुछ दिन पहले एक बर्थ-डे पार्टी हुई। तीन परिवार पार्टी में शामिल हुए। इसमें से दो परिवार संक्रमित हो गए। जिस परिवार ने पार्टी की थी, उनके यहां चार सदस्य संक्रमित हुए। दो लोगों की मौत भी हो गई। अन्य परिवार के भी चार लोग संक्रमित हो गए। इसी तरह बैंक के कर्मचारी को काम के सिलसिले में खंडवा जाना पड़ा। वहां क्लाइंट से मुलाकात की। बाहर खाना खाया। वापस घर आ गए। यहां आने पर उन्हें संक्रमण हो गया।

फिर पत्नी को संक्रमण हुआ। घर में तीन छोटे बच्चे भी संक्रमित हो गए। अब यह स्थिति है कि बैंक कर्मचारी अस्पताल में भर्ती है। परिवार के अन्य सदस्य होम आइसोलेशन में हैं। जो बहन खाना देने आ रही थी, वह भी संक्रमित हो गई। ऐसे ही एक मामले में दस लोग पूजा कार्यक्रम में शामिल होने के लिए खरगोन गए। वहां से लौटने पर सभी दस लोग संक्रमित हो गए। उनमें से कुछ को अस्पताल में भर्ती होना पड़ा। विशेषज्ञ डॉ. सौरभ मालवीय कहते हैं कोरोना की दूसरी लहर से बचना है तो कम से कम मिलना-जुलना करें। एक साथ कहीं भी जाने से बचें। मास्क ही बचाव का उपाय है।

कम लक्षणों वाले मरीज डे केयर सेंटर में ले सकेंगे दवा

कोरोना संक्रमित ऐसे मरीज, जिनके लक्षण गंभीर नहीं हैं, जो ऑक्सीजन पर नहीं हैं, लेकिन दवा, इंजेक्शन आदि लेने की जरूरत है, उनके लिए डे केयर सेंटर बुधवार से शुरू हो रहे हैं। संभागायुक्त डॉ. पवन कुमार शर्मा की अध्यक्षता में मंगलवार को हुई बैठक में तय किया गया कि एमटीएच और सुपर स्पेशिएलिटी के साथ ही पांच निजी अस्पताल अरबिंदो, सीएचएल, मेदांता व दो अन्य में डे केयर सुविधा होगी। इसमें मरीज आएगा और कोरोना उपचार के लिए जो दवा, इंजेक्शन आदि देने की जरूरत है, उसे वहां दी जाएगी।

महिला स्वास्थ्यकर्मी की मौत
सिविल सर्जन कार्यालय में पदस्थ महिला कर्मचारी की कोरोना संक्रमण से मौत हो गई। हुकमचंद पॉलीक्लिनिक में संचालित मेडिकल बोर्ड का सारा काम वही देखती थीं। पहले वे संक्रमित हुईं। उसके बाद उनके पति, बेटी और बहन भी संक्रमित हो गई। सिविल सर्जन डॉ. संतोष वर्मा ने बताया महिला का पूरा परिवार संक्रमित है। परिवार के एक सदस्य की पहले ही कोरोना से मौत हो चुकी है।

पीएससी की तैयारी कर रहे छात्र ने भी संक्रमण से दम तोड़ा
इंदौर में रहकर पीएससी की तैयारी कर रहे राजगढ़ के 25 वर्षीय छात्र की कोरोना संक्रमण से मौत हो गई। परिजन का आरोप है कि 48 घंटे में आठ अस्पताल लेकर गए, लेकिन उसकी सर्जरी नहीं हो सकी। राजगढ़ का ब्राह्मणगांव निवासी गिरीराज दांगी पिता गोकुल राठौर पीएससी की तैयारी कर रहा था। 22 मार्च को उसे कोरोना हुआ। वह घर पर रहकर इलाज कराता रहा। 27 मार्च को उसे चक्कर आ रहे थे। 28 मार्च को दोस्त व पड़ोसी केसरबाग कॉलोनी स्थित रूम पर पहुंचे तो वह बाथरूम में पड़ा था। फेफड़े में संक्रमण के साथ ही क्लॉट जमने उसकी मौत हो गई। गिरीराज के पिता की पिछले साल ही कैंसर से मौत हुई है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- वर्तमान परिस्थितियों को समझते हुए भविष्य संबंधी योजनाओं पर कुछ विचार विमर्श करेंगे। तथा परिवार में चल रही अव्यवस्था को भी दूर करने के लिए कुछ महत्वपूर्ण नियम बनाएंगे और आप काफी हद तक इन कार्य...

    और पढ़ें