कांग्रेस नेता करता था ऑक्सी फ्लो मीटर की कालाबाजारी:भैया मम्मी पॉजिटिव हैं, सिलेंडर है पर ऑक्सी फ्लो मीटर नहीं, व्यवस्था हो जाएगी क्या; आरोपी - मेरे पास नहीं... पर करवा दूंगा, 7000 रुपए देने होंगे

इंदौर5 महीने पहले
राजेद्र नगर टीआई अमृता सोलंकी ने यतींद्र से फोन पर बात की और उसे दबोचा।

इंदौर में पुलिस ने देर रात ऑक्सीजन सिलेंडर में लगने वाले ऑक्सी फ्लो मीटर की कॉलाबाजारी करने वाले कांग्रेस के मंडल अध्यक्ष यतींद्र वर्मा को पकड़ा है। उसके पास से दो ऑक्सी फ्लो मीटर भी बरामद किए हैं। कालाबाजारी को उजागर करने के लिए राजेंद्र नगर TI ने खुद मोर्चा संभाला। रात 10 बजे पीड़ित परिवार का सदस्य बनकर व्यक्ति को कॉल किया। करीब दो घंटे तक चले इस पूरे घटनाक्रम के बाद आरोपी पुलिस के हत्थे चढ़ गया।

राजेंद्र नगर TI अमृता सोलंकी ने बताया कि कोरोना संक्रमण काल के चलते ऑक्सीजन की बहुत ज्यादा जरूरत पड़ रही है। ऐसे में लोग जैसे-तैसे ऑक्सीजन सिलेंडर की व्यवस्था तो कर ले रहे हैं, लेकिन उसमें लगने वाले ऑक्सी फ्लो मीटर के लिए उन्हें भटकना पड़ रहा है। इसी का फायदा उठाकर लोग इसकी जमकर कालाबाजारी कर रहे हैं। ये लोग तीन से चार गुना तक वसूल रहे हैं।

ऐसी ही एक शिकायत मेरे पास रात में आई थी। पता चला था कि यतींद्र वर्मा नाम का व्यक्ति अधिक दाम में ऑक्सी फ्लो मीटर उपलब्ध करवा रहा है। इस पर मैंने पीड़ित परिवार की सदस्य बनकर रात करीब 10 बजे इसे कॉल किया। उसने बताया कि वह 7 हजार रुपए में ऑक्सी फ्लो मीटर उपलब्ध करवा देगा। पहले तो उसने कहा कि वह तीन पुलिया पर डिलीवरी दे देगा। किसी को भेज दीजिए। मैंने परेशानी बताते हुए कहा कि घर पर कोई नहीं है, यदि मेरे घर के आसपास डिलीवरी दे पाएं तो। ऐसा करते-करते उसे पुराने आरटीओ तक बुलाया। वह कार से यहां पहुंचा, हमने पहले से ही सारी तैयारी कर रखी थी। जैसे ही उसे हमने 7 हजार रुपए दिए, उसने तत्काल हमें ऑक्सी फ्लो मीटर निकालकर दे दिया। इसके बाद हमने उसे दबोच लिया।

पूछताछ में यतींद्र पिता नंदलाल ने बताया कि अरबिंदो अस्पताल के पास उसका किराए का एक मकान है। वहां पर भी एक ऑक्सी फ्लो मीटर रखा हुआ है। इस पर हमने दबिश देकर वहां से भी ऑक्सी फ्लो मीटर बरामद किया। मामले में उससे पूछताछ की जा रही है कि वह यह कहां से लेकर आ रहा था।

MP में 1200 नकली रेमडेसिविर की डिलीवरी:इंदौर में 1 हजार और 200 जबलपुर में बेच चुके हैं नकली रेमडेसिविर, सूरत में पकड़ा गिरोह; 17 सौ में बेचते थे इंजेक्शन, यहां 40 हजार तक मेें देते थे

राजेंद्र नगर टीआई अमृता सोलंकी और यतींद्र वर्मा के बीच हुई बातचीत के अंश...

  • TI : हैलो...
  • वर्मा : हैलो...
  • TI : वर्मा भैया बोल रहे हैं क्या।
  • वर्मा : जी यतींद्र वर्मा बात कर रहा हूं।
  • TI : भैया , मुझे आपका नंबर मेरे भाई साहब ने दिया था। बोला था कि ऑक्सी फ्लो मीटर की व्यवस्था नहीं हो पाएगी तो आप कर देंगे क्या।
  • वर्मा : जी, किसने बोला आपको, किसने नंबर दिया था।
  • TI : एक राजू भैया हैं, क्या है कि हमारी मम्मी घर पर ही हैं और हमारे पास सिलेंडर तो है, लेकिन उसमें लगने वाला ऑक्सीमीटर नहीं है। उन्होंने कहा था इस नंबर पर बात कर लेना। भैया व्यवस्था करवा देंगे।
  • वर्मा : मैम, ऑक्सीमीटर मेरे पास तो नहीं है, पर मैं उपलब्ध करवा दूंगा। पर 7 हजार से कम में नहीं आएगा मैडम। किसी के पास एक पड़ा है। करवा दूंगा व्यवस्था आपको।
  • TI : कितने में आएगा।
  • वर्मा : 7 हजार रुपए में।
  • TI : चलेगा भैया अभी बहुत जरूरत है, मेरी मम्मी पॉजिटिव है भैया ।
  • वर्मा : मैम तो आप एक काम करिए, आप किसी को पहुंचा सकते हैं तो तीन पुलिया चौराहे पर किसी को पहुंचा दीजिए।
  • TI : कौन से चौराहे पर भैया ।
  • वर्मा : तीन पुलिया चौराहे पर कार्तिक मेडिकल पर पहुंचा दीजिए।
  • TI : तीन पुलिया किधर आएगा भैया ।
  • वर्मा : मैम आप कहां से बोल रहे हैं।
  • TI : भैया मैं अन्नापूर्णा से बोल रही हूं।
  • वर्मा : मैम, परदेशीपुरा के पास तीन पुलिया आता है। यहां पर किसी को पहुंचा दीजिए।
  • TI : यहां आकर आपको काॅल कर लूं।
  • वर्मा : जी, मैं करवा दूंगा।
  • TI : थैंक्यू भैया ।
खबरें और भी हैं...