पश्चिम बंगाल की युवती को देह व्यापार से कराया आजाद:महाराष्ट्र के रास्ते इंदौर लाए, फ्लैट में कराने लगे देह व्यापार, महिला पकड़ाई

इंदौर2 महीने पहले

इंदौर की पलासिया पुलिस ने पश्चिम बंगाल की युवती काे देह व्यापार के दलदल से आजाद कराया है। वहीं उसे बंधक बनाकर देह व्यापार कराने वाली महिला को गिरफ्तार किया है। इस मामले में पुलिस को अब मुंबई की एक अन्य महिला के साथ दो और लोगों की तलाश है। फिलहाल पुलिस महिला आरोपी से पूछताछ कर रही है।

TI संजय सिंह बैस के मुताबिक 21 साल की चौबीस परगना पश्चिम बंगाल में रहने वाली युवती की शिकायत पर आफरीन उर्फ अमरीन निवासी बाबा का बाग मुहम्मदी मस्जिद और गुड़िया निवासी मुंबई महाराष्ट्र और काकाली पश्चिम बंगाल के खिलाफ मानव तस्करी ओर देह व्यापार के मामले में केस दर्ज किया है। पुलिस पूछताछ में सामने आया कि आरोपियों ने मेडिकेयर अस्पताल के ऊपर वर्धमान अपार्टमेंट की तीसरी मंजिल में पीड़िता को बंधक बनाया था। यहां उससे देह व्यापार करवा रहे थे। सूचना के बाद पुलिस की टीम ने कार्रवाई की थी।

रिश्तेदार महिला ने ही देह व्यापार में धकेला

पुलिस के मुताबिक पीड़ित युवती की काकाली निवासी पश्चिम बंगाल है। वह घरों में सफाई का काम करती है। काकाली को पीड़िता ने काम दिलाने की बात कही थी। काकाली ने उसे अपने साथ रख लिया और परिचित गुड़िया के यहां काम दिलाने की बात कही। इसके बाद वह उसे मुंबई लेकर आ गई। यहां करीब एक सप्ताह तक उससे जबरदस्ती देह व्यापार करवाया। यहां पीड़िता ने घर जाने की बात की तो गुड़िया और काकाली ने उसे धमकी दी। इसके बाद उसे आफरीन के यहां इंदौर लेकर आया गया।

तीन बार पहले पकड़ाई है आफरीन

आफरीन तीन बाद पहले जूनी इंदौर, विजयनगर और कनाड़िया थाना इलाकों में देह व्यापार के मामले में पकड़ी जा चुकी है। वह मुंबई और उत्तरप्रदेश के रास्ते काम की तलाश कर रही लड़कियों को अपने पास बुला लेती थी। यहां उनसे देह व्यापार करवाती थी। बताया जाता है कि जिस पीड़िता की शिकायत पर आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कराया है उसे भी 22 सिंतबर 2022 को आफरीन के पास इंदौर लाया गया था। पुलिस के मुताबिक आफरीन ने युवती को देह व्यापार में लाने के लिये रुपए नहीं दिए थे। । आफरीन ने पूछताछ के दौरान यह बात कबूली है।

मुंबई और पश्चिम बंगाल जाएगी टीमें

TI संजय सिंह बेस के मुताबिक मामले में अब गुड़िया और काकाली की गिरफ्तारी होना है। जिनकी पहचान करने के साथ उन्हें पकड़ने के लिये टीमें मुंबई ओर पश्चिम बंगाल भेजी जाएगी। इस मामले में आफरीन का रिमांड भी लिया जाएगा। पुलिस अधिकारियों के मुताबिक पीड़िता को भी कोर्ट के आदेश के बाद मंगलवार बयान कराकर पहले शेल्टर होम भेजा जाएगा। इसके बाद उसे परिवार के सुपुर्द किया जाएगा। फिलहाल दो आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद आगे की कहानी सामने आ पाएगी।