पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • Business Increased Two And A Half Times After Unlock, E way Bills Increased From 3.5 Lakhs To 8.70 Lakhs In June

सरकार को फिर मिलेगा पहले जैसा जीएसटी:अनलॉक के बाद कारोबार ढाई गुना बढ़ा, जून में ई-वे बिल 3.5 लाख से बढ़कर 8.70 लाख हुए

इंदौरएक महीने पहलेलेखक: संजय गुप्ता
  • कॉपी लिंक
अनलॉक के बाद जून में मप्र के कारोबार में ढाई गुना की बढ़ोतरी हो गई है। - Dainik Bhaskar
अनलॉक के बाद जून में मप्र के कारोबार में ढाई गुना की बढ़ोतरी हो गई है।

अनलॉक के बाद जून में मप्र के कारोबार में ढाई गुना की बढ़ोतरी हो गई है। लॉकडाउन के समय जो ई-वे बिल (50 हजार से अधिक माल परिवहन के लिए लगने वाले) मई में केवल साढ़े तीन लाख ही जारी हुए थे, वह जून में बढ़कर साढ़े आठ लाख हो गए हैं। मप्र में बिना प्रतिबंध के समय हर माह औसतन नौ से दस लाख ई-वे बिल जारी होते हैं।

अब उम्मीद है कि जून के कारोबार के जो रिटर्न जुलाई माह में दाखिल होंगे। उसमें मप्र को जीएसटी के तौर पर औसतन 1600 से 1700 करोड़ रुपए मिलना शुरू हो जाएगा। वहीं, जून में कर सलाहकार, सीए के दफ्तर खुलने से मार्च, अप्रैल और मई के रुके हुए जीएसटी रिटर्न भी भरे गए। मई में कारोबार बंद होने के बावजूद सरकार को जीएसटी 241 करोड़ अधिक मिला है।

ई-वे बिल इसलिए जरूरी

मप्र के जिलों में या अन्य राज्यों में 50 हजार से अधिक माल भेजने के लिए व्यापारी को जीएसटी की साइट पर जाकर ई-वे बिल जनरेट करना होता है, जो ट्रक के साथ जरूरी होता है। लॉकडाउन में खरीदी-बिक्री गिर गई थी ताे ई-वे बिल जनरेट होना भी कम हो गए थे और यह औसत के 40-50% पर आ गए थे।