• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • IIM Indore IIT Indore Data Science Master's Degree Program | Master Of Science In Data Science And Management

डाटा साइंस सिखाएंगे इंदौर के IIT-IIM:कोरोना महामारी के बाद बदला बिजनेस का तरीका, डेटा एनालिस्ट की मांग बढ़ी, इंडस्ट्री की ये जरुरत पूरी करेंगे IIT-IIM

इंदौर8 महीने पहले

IIM इंदौर ने IIT इंदौर के साथ पहला मास्टर डिग्री प्रोग्राम शुरू किया है। इसमें देशभर के छात्र हिस्सा ले सकेंगे। दो साल के इस पाठ्यक्रम में डाटा साइंस पढ़ाया जाएगा।

डेटा साइंस एंड मैनेजमेंट दो साल का मास्टर ऑफ साइंस प्रोग्राम है। इस ऑनलाइन सिलेबस में 15 घंटे के लाइव सत्र और कुल 900 घंटे पढ़ाई कराई जाएगी। इस पाठ्यक्रम में स्किल मैनेजमेंट और एनालिस्ट की बढ़ती मांग को ध्यान में रखते हुए पढ़ाया जाएगा। पहले बैच में अब तक 41 स्टूडेंट ने रजिस्ट्रेशन करा लिया है। भारतीय छात्रों के लिए इसकी फीस 12 लाख और विदेशी छात्रों के लिए 15.6 लाख रुपए है।

IIT डायरेक्टर प्रो. सुहास जोशी ने कहा व्यवसायों को महामारी के बाद मैनेजमेंट, डेटा साइंस और टेक्नीक में स्किल्ड मेनपॉवर की जरुरत बढ़ी है। IIT-IIM द्वारा पेश किया गया यह सिलेबस व्यावसायिक ज्ञान और तकनीकी कौशल दोनों पर केंद्रित है।

इस सिलेबस में मशीन लर्निंग, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, सप्लाई चैन मैनेजमेंट, फाइनेंस मैनेजमेंट, डेटाबेस मैनेजमेंट सिस्टम, प्रोग्रामिंग लैंग्वेज और स्टैटिस्टिकल मेथड्स, एचआरएम, स्ट्रेटेजिक मैनेजमेंट, इनफार्मेशन सिस्टम्स, एथिक्स आदि पर सत्र शामिल है।

विजन से अस्थिरता का मुकाबला करें - प्रो. राय
इस मौके पर प्रो. हिमांशु राय ने VUCA (Volatility, Uncertainity, Complexity, Ambiguity) यानी अस्थिरता, अनिश्चितता, जटिलता और अस्पष्टता की दुनिया में चुनौतियों को कैसे पार किया जा सकता है इस पर अपने विचार साझा किए। उन्होंने कहा दृष्टिकोण यानी विजन से अस्थिरता का मुकाबला किया जा सकता है। दुनिया अस्थिरता का सामना कर रही है, और इसे केवल दूरदृष्टि रखने से ही दूर किया जा सकता है। डेटा की उपलब्धता को सार्थकता में कैसे परिवर्तित किया जाए यह इस सिलेबस सेस सीखा जा सकेगा। उन्होंने स्टूडेंट्स को अपनी दृष्टि में कल्पना जोड़ने और एक ऐसी दुनिया बनाने की दिशा में काम करने की सलाह दी जिसका वे हिस्सा बनना चाहते हैं।

ऑनलाइन हुआ इनॉगरेशन
इस सिलेबस का ऑनलाइन इनॉगरेशन IIM इंदौर डायरेक्टर प्रो. हिमांशु राय, IIT डायरेक्ट प्रो. सुहास जोशी, पूर्व कार्यवाहक डायरेक्टर प्रो. नीलेश कुमार जैन, प्रोग्राम कोऑर्डिनेटर प्रो. अमित वत्स व अन्य ने किया।

खबरें और भी हैं...