पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

इंदौर में बारिश कम होने से डैम खाली:आधा सितंबर बीतने के बाद भी यशवंत और पिपल्यापाला तालाब एक फीट खाली, छोटा सिरपुर हुआ ओवरफ्लो

इंदौर3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

इंदौर शहर व आसपास के गांवों को पानी देने वाले तालाबों का जलस्तर अभी भी उनकी क्षमता से कम है। यहां कम बारिश ने किसानों की परेशानी बढ़ा दी। तालाबों के जलस्तर ने अधिकारियों को भी परेशानी में डाल दिया है। फिलहाल सभी को अच्छी बारिश का इंतजार है, ताकि गर्मियों में होने वाली परेशानी न हो।
बारिश की कमी की वजह से इस बार लबालब रहने वाला यंशवत तालाब एक फीट खाली है। यहां पानी की क्षमता करीब 19 फीट है, लेकिन इस बार यहां 18 फीट पानी ही आ पाया है। पिपल्यापाला तालाब की क्षमता 22 फीट है। इसमें भी अभी 21 फीट पानी भरा हुआ है। अगस्त माह में खाली पड़े लिबोंदी तालाब का जल स्तर डेढ़ फीट हुआ है। छोटा सिरपुर तालाब में तो क्षमता से अधिक पानी आ गया है, लेकिन बड़े में अभी भी पूर्ति के अनुसार पानी नहीं पहुंचा है।
जुलाई अगस्त में ही खुल जाते थे सायफन
यंशवत सागर में जुलाई अगस्त के माह में ही सायफन के गेट खुल जाते थे। लेकिन यहां सिंतबर तक एक भी बार इसे खोलने की जरूरत नहीं पड़ी है। यह 30 एमएलडी पानी प्रतिदिन पश्चिम इलाके को देता है। जबकि इसके फुल होने पर गेट खुलने पर गंभीर डैम में पानी जाता था, जो वर्तमान में ना के बराबर है। बारिश ठीक नहीं होने से यहां भी पानी की दिक्कत देखी जा रही है।
तालाबों की अभी यह है स्थिती

तालाबभराव क्षमतावर्तमान स्थिती
यशवंत सागर19 फीट18 फीट
बड़ी बिलावली34 फीट22.5 फीट
छोटी बिलावली12 फीट5.4 फीट
बड़ा सिरपुर16 फीट11.1 फीट
छोटा सिरपुर13 फीट13.7 फीट
पिपलियापाला22 फीट21 फीट
लिम्बोदी16 फीट1.5 फीट
खबरें और भी हैं...