पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

शहर में एटीएम फ्रॉड का नया तरीका:कैश मशीन का ऑटोमैटिक सिस्टम रोक 21 ट्रांजेक्शन में 2 लाख निकाले

इंदौरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बदमाशों द्वारा एटीएम में वारदात का अनूठा मामला सामने आया है। एटीएम में घुसे दो बदमाशों ने एटीएम कार्ड लगाकर पहले दस हजार रुपए निकाले। जैसे ही मशीन ने पैसे दिए तो बदमाशों ने उसमें अंगुली डाली, जिससे कैश निकालने वाला सेक्शन चोक होकर वहीं रुक गया। बदमाशों ने फिर एटीएम लगाया और 10 हजार निकाले। ऐसा उन्होंने 21 बार किया और 2.10 लाख रुपए निकाल लिए।

इस दौरान मशीन एरर बताती रही और बदमाश लगातार पैसा निकालते रहे। ऐसी घटना शहर में तीन जगह होने की बात सामने आई है। मालूम हो, एटीएम कार्ड की लिमिट के हिसाब से 24 घंटे के भीतर 40 हजार रुपए से ज्यादा नहीं निकलना चाहिए। राजेंद्र नगर टीआई अमृता सोलंकी के अनुसार स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की केसर बाग ब्रांच के प्रबंधक ने अज्ञात बदमाशों के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज करवाया है।

उन्होंने बताया कि उनकी शाखा के सीडीएम में मंगलवार सुबह 6.18 बजे से 7.21 बजे के बीच 2.10 लाख रुपए निकाले गए हैं। कैश डिपॉजिट मशीन से पैसे निकाल भी सकते हैं और जमा भी कर सकते हैं। उन्होंने बताया कि उनकी शाखा के कैश रिसाइकल में एटीएम कार्ड लगाकर दो बदमाशों ने पहले 10 हजार रुपए निकाले। फिर आरोपियों ने अंगुली डालकर कैश सेक्शन को रोक दिया और बार-बार ट्रांजेक्शन कर 2 लाख 10 हजार रुपए निकाल लिए।

कई शहरों में घटना की आशंका
ऐसी ही घटना सराफा थाना क्षेत्र के पीवाय रोड स्थित एटीएम और अन्नपूर्णा क्षेत्र में भी हुई है। सराफा टीआई सुनील शर्मा के अनुसार उन्हें बैंक अफसरों ने शिकायत की है। पुलिस अफसरों को शंका है कि इस गैंग ने देश के कई हिस्सों में इस तरह की वारदात को अंजाम दिया है। अब पुलिस घटना के दौरान सबसे पहले और आखिरी बार के ट्रांजेक्शन के बैंक अकाउंट की जानकारी जुटा रही है।

खबरें और भी हैं...