पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • Committee Constituted To Investigate Covid Arrangements For Pregnant Women And Children In Government And Private Hospitals, MLA Malini Gaur Appointed As President

इंदौर तीसरी लहर को लेकर अलर्ट:सरकारी और निजी अस्पतालों में गर्भवती महिलाओं, बच्चों के लिए कोविड इंतजाम को जांचने समिति गठित, विधायक मालिनी गौड़ को बनाया अध्यक्ष

इंदौर12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पूर्व महापौर और विधायक मालिनी गौड़ समिति की अध्यक्ष होंगी। - Dainik Bhaskar
पूर्व महापौर और विधायक मालिनी गौड़ समिति की अध्यक्ष होंगी।

कोरोना की पहली और दूसरी लहर में सबसे ज्यादा संक्रमित इंदौर ने संभावित तीसरी लहर को लेकर पहले से ही कमर कसना शुरू कर दिया है। तीसरी लहर में सबसे ज्यादा बच्चों के प्रभावित होने की बात कही जा रही है। इसे देखते हुए सरकारी के साथ ही निजी अस्पतालों में गर्भवती महिलाओं और एक महीने से लेकर 14 साल तक के बच्चों को सही इलाज मिल सके। इसे लेकर व्यवस्था को दुरुस्त किया जा रहा है। इसी कड़ी में कलेक्टर मनीष सिंह ने अब जनप्रतिनिधि, अधिकारी और डॉक्टरों की संयुक्त मॉनीटरिंग समिति का गठन किया है।

समिति में विधायक मालिनी लक्ष्मण सिंह गौड़ को अध्यक्ष बनाया गया है। अपर कलेक्टर अभय अरविंद बेड़ेकर समिति के सचिव रहेंगे। समिति में राज्य स्तरीय कोविड टॉस्क फोर्स के सदस्य डॉ. निशांत खरे, इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के डॉ. जितेन्द्र गुप्ता, नर्सिंग होम एसोसिएशन के डॉ. सुरेश वर्मा, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. बीएस सैत्या सदस्य को सदस्य के रूप में समिति में शामिल किया गया है।

अस्पतालों की व्यवस्था देखने समिति गठित

तीसरी लहर को देखते हुए सरकारी और निजी अस्पतालों में संक्रमित गर्भवती महिलाएं, नवजात शिशु और 14 साल तक के बच्चों के लिए ईलाज के साथ ऑपरेशन की व्यवस्थाओं को दुरुस्त किया जा रहा है। जिले में चिह्नित 40 से अधिक निजी अस्पतालों में बेड के साथ अन्य सुविधाओं काे लेकर दिशा-निर्देश जारी कर दिए गए हैं। इन सब कामों की नियमित मॉनिटरिंग हो सके इसीलिए समिति का गठन किया गया है।

यह होगा समिति का काम

  • समिति अस्पतालों की मॉनिटरिंग कर सकेगी।
  • शासकीय और निजी अस्पतालों के संचालकों की बैठक में बुला सकेगी।
  • समिति देखेगी की अस्पतालों में गर्भवती महिलाओं, और बच्चों के लिए कोविड इलाज की व्यवस्थाएं मापदण्ड के अनुरूप है या नहीं।
  • समिति अन्य डॉक्टरों की एक टीम गठित कर उनकी मदद, इन अस्पताल संचालकों को आवश्यक मार्गदर्शन देने में ले सकेगी।
  • समिति इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के कोविड टास्क फोर्स से भी आवश्यक सहयोग ले सकेगी।
खबरें और भी हैं...