दिगंबर जैन समाज का पर्युषण पर्व 10 से:कौन बनेगा धर्म शिरोमणि और जैन इंदौर आइडल प्रतियोगिताएं ऑनलाइन होंगी, 21 को मनेगा क्षमावाणी महापर्व

इंदौरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

दिगंबर जैन समाज का पर्युषण पर्व 10 सितंबर से शुरू होने जा रहा है। इसे लेकर समाजजनों द्वारा विशेष तैयारी की जा रही है। इसमें कई प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जा रहा है, जिसमें समाजजन हिस्सा लेंगे। हालांकि कोविड गाइड लाइन का पालन करते हुए यह प्रतियोगिताएं ऑनलाइन ही आयोजित की जाएंगी। वहीं मुनि स्व. तरुण सागर और स्व. सुशील डबडेरा अवार्ड भी समाज की दो विभूतियों को दिया जाएगा।

इन प्रतियोगिताओं का ऑनलाइन होगा आयोजन

10 सितंबर को कौन बनेगा धर्म शिरोमणी

11 सितंबर को जैन इंदौर आइडल

12 सितंबर को धार्मिक अंताक्षरी

13 सितम्बर को धार्मिक बाल गीत भजन प्रतियोगिता

14 सितंबर को भक्तामर महाकाव्य पाठ पर 48 दीप सजाओ प्रतियोगिता

15 सितंबर को कौन बनेगा धर्म शिरोमणी पार्ट-2

16 सितंबर को सुगंध दशमी को ऑनलाइन देव दर्शन

17 सितंबर को धार्मिक फैंसी ड्रेस प्रतियोगिता

18 सितंबर को संगीतमय धार्मिक तंबोला

19 सितंबर को एकल नृत्य प्रतियोगिता

दिगंबर जैन समाज इंदौर युवा प्रकोष्ठ के मार्गदर्शक राहुल सेठी व अध्यक्ष सुयश जैन के मुताबिक पयुर्षण महापर्व की तैयारी की जा चुकी है। जिला प्रशासन द्वारा कोविड की जो गाइड लाइन तय की है, उसके अनुसार पर्व पर धार्मिक-सांस्कृतिक आयोजन ऑनलाइन किए जाएंगे। आयोजन को संजोने के लिए 5 सदस्यीय समिति का चयन किया है। पर्व के समापन पर 20 सितंबर को सभी प्रतियोगिता के पुरस्कार वितरित किए जाएंगे। वहीं 21 सितंबर को क्षमावाणी महापर्व मनाया जाएगा। महापर्व में समाज की दो विभूतियों का विशेष काम के लिए अवार्ड से सम्मान किया जाता है। इस बार कोविडकाल में विशेष काम करने वाली पुलिस विभाग में सीएसपी सौम्या जैन को मुनिश्री स्व. तरुण सागर अवार्ड और पुलक मंच के राष्ट्रीय पदाधिकारी प्रदीप बड़जात्या जी को स्व. सुशील ड़बड़ेरा अवार्ड से सम्मानित किया जाएगा।