• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • Congress MLA Sanjay Shukla Of Indore Assembly Number 1 And BJP Councilor Neeta Sharma Came Face To Face With The Problem Of Water Logging.

MLA और पूर्व पार्षद की तू-तू मैं-मैं, VIDEO:इंदौर की कॉलोनी में जलभराव की शिकायत, कांग्रेस विधायक संजय शुक्ला पहुंचे; भाजपा की महिला नेता ने हाथ जोड़कर कहा- यहां से चले जाइए

इंदौरएक वर्ष पहले

इंदौर में जलभराव की समस्या की बीच कांग्रेस विधायक संजय शुक्ला और पूर्व स्थानीय पार्षद नीता शर्मा के बीच तू-तू मैं-मैं हो गई। नीता ने कहा कि आपके हाथ जोड़ती हूं, यहां से चले जाइए। विधायक ने कहा- यह मेरा क्षेत्र है। जनता की समस्या दूर करना हमारा काम है। इस पर दोनों के बीच तीखी नोकझोंक हुई। इस दौरान कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भाजपा की पूर्व पार्षद की हूटिंग भी की।

विधानसभा-1 के पलहर नगर जोन स्थित ओम विहार कॉलोनी में कॉलोनाइजर ने नई कॉलोनी बनाई है। उसने सड़क ऊंची करके गेट लगा दिया। इसकी वजह से बारिश का पानी नहीं निकल पा रहा है और पानी आसपास घरों में भर गया है। लोगों ने इसकी शिकायत कांग्रेस विधायक संजय शुक्ला से की। विधायक सुबह कॉलोनी में पहुंच गए। उन्होंने सड़क और गेट तोड़ने के लिए नगर निगम के कर्मचारियों को कहा, तभी वार्ड 14 की पूर्व पार्षद नीता शर्मा पहुंच गईं। दोनों में तीखी नोकझोंक हो गई।

विधायक का कहना था कि आम जनता को जो समस्या हो रही है उससे नीता अनजान हैं और जनता ने जब उन्हें समस्या बताई तो वह शुक्रवार को सुबह इलाके का दौरा करने आए थे, लेकिन पूर्व पार्षद का यह व्यवहार आपत्तिजनक है। जनपद की होने के बाद वे एक दूसरे जनप्रतिनिधि से इस तरह का व्यवहार करती हैं, तो आम जनता से किस तरह का सलूक करती होंगी।

ड्रेनेज के पानी में खड़े रहे विधायक
ड्रेनेज के पानी में खड़े रहे विधायक

हम नहीं तो कौन देगा समस्या पर ध्यान
विधायक संजय शुक्ला ने बताया कि कुछ दिन पहले पलहर नगर जोन के रहवासी उनसे मिलने आए थे। उन्होंने बताया था कि जोन में ओम विहार कॉलोनी स्थित कॉलोनाइजर ने सड़क ऊंची कर गेट का निर्माण कर दिया है। सड़कों पर पानी जमा हो रहा है। इसके कारण स्थानीय लोगों को लंबे समय से परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

गेट तोड़कर पानी निकासी के लिए रास्ता बनाया गया।
गेट तोड़कर पानी निकासी के लिए रास्ता बनाया गया।

नाला टेपिंग भी एक कारण
कांग्रेस विधायक संजय शुक्ला का आरोप था कि कुछ दिनों पहले नगर निगम ने कई जगह नाला टेपिंग की गई थी, जिस कारण से यह जलभराव की स्थिति हो रही है, लेकिन नगर निगम इस बात को मानने को तैयार नहीं कि नाला टेपिंग जलभराव का प्रमुख कारण है।

स्थानीय लोगों का आरोप था कि शहर में डेंगू लगातार पैर पसार रहा है। उसके बाद भी पूर्व पार्षद ने कॉलोनाइजर को गेट निर्माण करने दिया गया। सड़क ऊंची करने से इलाके में ड्रेनेज का पानी सड़कों पर आ गया है।

रहवासियों के विरोध के बाद पूर्व पार्षद शांत हुईं।
रहवासियों के विरोध के बाद पूर्व पार्षद शांत हुईं।

कई घंटों की नोकझोंक के बाद हुई समस्या हल
विधायक संजय शुक्ला और पूर्व पार्षद नीता शर्मा की कई घंटों की नोकझोंक के बाद समस्या का हल हुआ। नगर निगम के अधिकारियों को मौके पर बुलाकर गेट को तोड़ा गया। वहीं सड़क को भी समतल कराया, जिसके बाद सड़कों पर भरे पानी की निकासी हो पाई।

खबरें और भी हैं...