• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Coronavirus Vaccine News; Indore Couple Receive Bharat Biotech Covaxin At Bhopal People's Hospital

इंदौर के भाल पर टीका:कोवैक्सीन लगवाने भोपाल आ गए इंदौरी कपल; पति ने मांगी इजाजत तो पत्नी बोली- दोनों साथ ही लगवाते हैं ना...

इंदौर2 वर्ष पहलेलेखक: राजीव तिवारी
  • कॉपी लिंक
मनोज राय पत्नी पूजा के साथ वैक्सीन का डोज लगवाने पहुंचे। - Dainik Bhaskar
मनोज राय पत्नी पूजा के साथ वैक्सीन का डोज लगवाने पहुंचे।

मध्य प्रदेश की राजधानी में भारत बायोटेक और ICMR की कोवैक्सीन के थर्ड फेज का ट्रायल शुरू हो गया है। ट्रायल के लिए वॉलंटियर की श्रृंखला में अब इंदौर का नाम भी जुड़ गया है। शहर के एक दंपती ने मंगलवार को पीपुल्स अस्पताल पहुंचकर कोवैक्सीन का पहला डोज 'मंगल टीका' लगवाया। ये दंपती भवानीपुर कॉलोनी निवासी मनोज राय ओर उनकी पत्नी पूजा राय हैं। मनोज राय ने जब अपनी पत्नी ने ट्रायल की अनुमति मांगी तो न सिर्फ उसने प्रशंसा की, बल्कि वह खुद भी टीका लगवाने के लिए तैयार हो गई। ये इंदौर के मस्तक पर टीके के समान है। टीका लगने के बाद कपल ने दैनिक भास्कर से अनुभव शेयर किए।

मनोज राय की जुबानी

'मैं मेडिकल के क्षेत्र में वैक्सीनेशन के फील्ड से ही जुड़ा हूं। पूरे राज्य में वैक्सीनेशन सप्लाई का काम करता हूं। वैक्सीन हब के नाम से हेड ऑफिस इंदौर में है। एक ब्रांच भोपाल में भी है। इसी सिलसिले में भोपाल आना-जाना रहता है। पिछले सप्ताह भी भोपाल आया था। यहां वैक्सीन के काम में लगे अधिकारियों से मिला। इसके बाद लगा कि वे वैक्सीन सप्लाई तो करते हैं, क्यों ना कोरोना वैक्सीन लगवाई जाए। यह देशहित में होने के साथ ही नया एक्सपीरियंस भी होगा। इसके बाद अपना आधार दिया, अस्पताल ने 8 दिसंबर को आने के लिए कहा था।

पिता जी बोले- जरूर लगवाओ, किसी को तो आगे आना होगा
वैक्सीन लगवाने की बात जब राय ने अपने पिता कांतिलाल राय और मां सोनाबाई राय को बताई, तो वे खुश हो गए। उन्होंने कहा- यह तो अच्छा निर्णय है। हमें देशहित में यह काम जरूर करना चाहिए। इसके बाद पत्नी से बात हुई, तो उन्होंने न केवल हामी भरी, बल्कि खुद भी वैक्सीन लगवाने के लिए तैयार हो गईं।

राय को पहले टीका लगाया गया।
राय को पहले टीका लगाया गया।

सुबह इंदौर से पत्नी के साथ भोपाल रवाना हुआ
राय ने बताया कि वैक्सीनेशन के लिए उन्हें मंगलवार को बुलाया था, इसलिए सुबह पत्नी के साथ इंदौर से भोपाल के लिए रवाना हुआ और सीधे पीपुल्स अस्पताल पहुंचा। यहां सबसे पहले उन्होंने चेकअप कराया। इसके बाद ब्लड सैंपल दिया और कोरोना टेस्ट हुआ। रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद उन्होंने हमें वैक्सीन के बारे में जानकारी दी और काउंसिलिंग की। इसके बाद पहले मुझे पहला डोज दिया गया। इसके बाद पत्नी को टीका लगा। टीका लगने के बाद उन्होंने हमें करीब आधे घंटे तक बैठने को कहा। इस पूरी प्रक्रिया में हमें करीब 2 घंटे का समय लगा। इसके बाद हमें 5 जनवरी को दूसरा डोज लगवाने को कहकर वहां से रवाना कर दिया। मैं पत्नी के साथ वहां से निकला और होटल पहुंचकर खाना खाया।

इंदौर से टीका लगवाने वाले पहले व्यक्ति हैं राय।
इंदौर से टीका लगवाने वाले पहले व्यक्ति हैं राय।

2 से 8 डिग्री तापमान जरूरी
राय चूंकि वैक्सीन वाली फील्ड से ही जुड़े हैं, इसलिए उन्होंने बताया कि कोराेना वैक्सीन के लिए 2 से 8 डिग्री तक तापमान जरूरी है। उनके अनुसार उनके पास वैक्सीन के स्टोर की व्यवस्था है। वे 4 से 5 लाख वैक्सीन को अपने कोल्ड रूम में स्टोर कर सकते हैं।

खबरें और भी हैं...