पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

इंदौर में होर्डिंग ने ले ली जान:बारिश से बचने के लिए बस स्टॉप पर खड़े युवक को होर्डिंग से लगा करंट; पत्नी से कहा था- आ रहा हूं; पुलिस मौत की खबर लेकर पहुंची

इंदौर21 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
अजय की इलाज के दौरान अस्पताल में मौत हो गई। - Dainik Bhaskar
अजय की इलाज के दौरान अस्पताल में मौत हो गई।

इंदौर में बारिश में बचने के लिए बस स्टॉप पर खड़े एक युवक की जान चली गई। बस स्टॉप पर विज्ञापन होर्डिंग में करंट आ रहा था। युवक ने जैसे ही हाथ ऊपर किया, उससे टच होते ही बेहोश होकर गिर गया। पुलिस युवक को लेकर अस्पताल पहुंची, जहां उसकी मौत हो गई। घटना से कुछ देर पहले ही उसने अपनी पत्नी को फोन करके घर जल्द पहुंचने की बात कही थी। पुलिस उसके मौत की सूचना लेकर घर पहुंची।

अन्नपूर्णा पुलिस के मुताबिक अजय पुत्र चंद्रकात सहगल निवासी महावर नगर रविवार रात साइकिल से अपने घर जा रहा था। अचानक शुरू हुई बारिश में वह महूनाका चौराहे पर बने सिटी बस स्टॉप पर रुक गया। इस दौरान यहां लगे लाइट वाले विज्ञापन होर्डिंग पर उसका हाथ लगा। करंट लगने से वह मौके पर ही गिर गया। यहां मौजूद लोगों ने पुलिस को सूचना दी। मौके पर आए सिपाहियों ने उसे उठाकर लोगों की मदद से रिक्शा में डालकर जिला अस्पताल पहुंचाया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

पति ने कुछ देर में आने के लिए कहा था
अजय ने थोड़ी देर पहले पत्नी की मोबाइल पर अजय की बात हुई थी। उसने कुछ देर में आने का कहा थ, लेकिन पुलिस उसकी मौत की खबर लेकर घर पहुंची। कॉलोनी के लोगों ने मामले में सोमवार को मुआवजे और पत्नी को नौकरी दिलाने को लेकर धरना देने की बात कही है।

नगर निगम की बड़ी लापरवाही सामने आई
पूरे मामले में नगर निगम की लापरवाही सामने आ रही है, चूंकि शहरभर के सिटी बस स्टॉप पर इलेक्ट्रिक होर्डिंग लगे हुए हैं। यह कितने सुरक्षित हैं, इसकी जांच नगर निगम को करना चाहिए।

मजदूरी के काम से जुड़ा था
अजय सहगल के परिवार में पत्नी और दो बेटी चार और दस साल की है। वह मजदूरी के काम से जुड़ा था। महावर नगर में अपने भाई अरूण और अशोक के साथ रहता था।

खबरें और भी हैं...