डीएवीवी / दो माह में मिलेगा देवी अहिल्या यूनिवर्सिटी को नया कुलपति, राजभवन ने जारी किया विज्ञापन

पिछले साल 23 जून को सीईटी विफल होने के कारण तत्कालीन सरकार ने अगले दिन ही 24 जून को धारा 52 लगा दी थी। इसमें तत्कालीन कुलपति डॉ. नरेंद्र धाकड़ को हटा दिया गया था। पिछले साल 23 जून को सीईटी विफल होने के कारण तत्कालीन सरकार ने अगले दिन ही 24 जून को धारा 52 लगा दी थी। इसमें तत्कालीन कुलपति डॉ. नरेंद्र धाकड़ को हटा दिया गया था।
X
पिछले साल 23 जून को सीईटी विफल होने के कारण तत्कालीन सरकार ने अगले दिन ही 24 जून को धारा 52 लगा दी थी। इसमें तत्कालीन कुलपति डॉ. नरेंद्र धाकड़ को हटा दिया गया था।पिछले साल 23 जून को सीईटी विफल होने के कारण तत्कालीन सरकार ने अगले दिन ही 24 जून को धारा 52 लगा दी थी। इसमें तत्कालीन कुलपति डॉ. नरेंद्र धाकड़ को हटा दिया गया था।

  • नए कुलपति की प्रक्रिया शुरू,5 अगस्त तक आवेदन किया जा सकेगा
  • कुलपति पद के लिए इंदौर से कई प्रबल दावेदार, तीन सदस्यीय कमेटी चयन करेगी

दैनिक भास्कर

Jul 02, 2020, 11:59 AM IST

इंदौर. देवी अहिल्या यूनिवर्सिटी के कुलपति को लेकर प्रक्रिया शुरू हो गई है। राजभवन ने इसके लिए विज्ञापन जारी कर दिया है। दावेदारों को 5 अगस्त तक आवेदन करना होगा। अगले दो माह में यूनिवर्सिटी को नया कुलपति मिल जाएगा। सूत्रों के अनुसार कुलपति पद के लिए इंदौर से 15 प्रबल दावेदार है।  

आवेदन प्रक्रिया पूरी होने के बाद कुलपति चयन कमेटी बनेगी। इसमें एक सदस्य राजभवन तय करेगा। जबकि दूसरा नाम यूजीसी से और तीसरा नाम राज्य शासन से आएगा। आवेदकों में से तीन या चार नामों की पैनल बनेगी। चयन कमेटी यह पैनल राजभवन को सौंपेगी। राजभवन उनमें से एक नाम तय करेगा। इंदौर से डॉ. एसएल गर्ग, डॉ. आशुतोष मिश्र, डॉ. मंगल मिश्र, डॉ. सुरेश सिलावट, डॉ. अशोक शर्मा, डॉ.प्रियंका जैन सहित कई नाम चर्चा में हैं।

धारा-52 लगाकर हटा दिया था तात्कालीन कुलपति को
दरअसल, पिछले साल 23 जून को हुई सीईटी विफल होने के कारण तत्कलीन सरकार ने अगले दिन ही 24 जून को धारा 52 लगा दी थी। इसमें तत्कालीन कुलपति डॉ. नरेंद्र धाकड़ को हटा दिया गया था। इसके 32 दिन बाद डॉक्टर रेणु जैन को डीएवीवी का कुलपति नियुक्त किया गया था।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना