बात नहीं करने पर दोस्त की पत्नी को बताया कॉलगर्ल:सोशल मीडिया पर नंबर भी वायरल कर दिया, साजिश में 3 महिलाएं भी...

इंदौर4 महीने पहले

इंदौर में दोस्त की पत्नी को बदनाम करने के मामले में नया खुलासा हुआ है। आरोपी ने अपनी ही पत्नी, साली, दोस्त और दोस्त की गर्लफ्रेंड के साथ मिलकर उस महिला को कॉल गर्ल बता दिया। मोबाइल नंबर भी सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। दोस्त की पत्नी ने जब नंबर ब्लॉक किया तो इंस्टाग्राम पर बदनाम करने लगे। एक महीने बाद पीड़िता ने पुलिस की मदद ली। पुलिस ने तीन महिला-लड़कियों सहित छह पर छेड़छाड़, आईटी एक्ट सहित अन्य मामलों में केस दर्ज किया है।

द्वारकापुरी पुलिस ने इलाके में रहने वाली 20 साल की शादीशुदा महिला की शिकायत पर अजय ठाकुर उसकी पत्नी माया ठाकुर, साली पूजा वास्कले, दोस्त पुनिया भालसे निवासी कुंदन नगर उसकी गलफ्रेंड अलीशा निवासी हनुमान मंदिर कॉलोनी और गौतम करोसिया निवासी ऋषि पैलेस कालोनी के खिलाफ छेड़छाड़, बदनाम करने और वसूली करने के मामले में केस दर्ज किया है।

पीड़िता ने बताया कि अजय ठाकुर और गौतम करोसिया उसके घर आए। उन्होंने कहा कि 50 हजार रुपए देने होंगे। नहीं तो उसके पति को जान से मार देंगे। आरोपी एक माह से इस बात को लेकर उसे लगातार परेशान कर रहे थे। इंस्टाग्राम, व्हॉट्सएप और सोशल मीडिया के अन्य माध्यमों पर भी आरोपियों ने अश्लील फोटो व वीडियो एडिट कर अपलोड कर दिए। मोबाइल नंबर भी कॉल गर्ल बताते हुए सार्वजनिक कर दिया।

पति के ही दोस्त हैं आरोपी
पीड़िता के मुताबिक आरोपी अजय उसके पति का ही दोस्त है। एक माह पहले अजय ने दोस्त की पत्नी को कॉल किया था। वह बात करने के लिए दबाव बना रहा था। इस दौरान पीड़िता ने मजाक समझकर उसकी बात को दरकनार कर दिया। इसके बाद अजय ने फिर से कॉल किया। जिसके बाद यह बात उसने अपने पति को बताई। पति ने अजय को चेताया कि दोस्ती में यह ठीक नहीं। अजय और उनके बीच मोबाइल पर कहासुनी हो गई। इसके बाद आरोपियों ने पीड़िता को सोशल मीडिया पर बदनाम करने की धमकी दी।

कॉल गर्ल बताकर बांटे नंबर, अनजान लोग कॉल करने लगे
पीड़िता के पति ने पुलिस को बताया कि आरोपियों ने दुश्मनी निकालने के लिये उसकी पत्नी के नंबर इंस्टाग्राम और वॉट्सएप पर कॉल गर्ल बताकर वायरल कर दिए। जिसके बाद लगातार पत्नी के मोबाइल पर कॉल आने लगे। पीड़िता ने शुरूआत में नंबर ब्लॉक किये। लेकिन आरोपी इसके बाद भी लगातार बदनाम करने के लिए सोशल मीडिया का सहारा लेते रहे।