इंदौर में रात में अलर्ट हुई पुलिस सुबह सोते मिली:CM शिवराज के आदेश के बाद DIG का रिस्पॉस टेस्ट; अन्नपूर्णा थाने के पुलिसकर्मी और PCR वैन ड्राइवर नींद लेते हुए मिले

इंदौरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
थाने और पीसीआर में सोते हुए सिपाही। - Dainik Bhaskar
थाने और पीसीआर में सोते हुए सिपाही।

इंदौर एयरपोर्ट पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने डीआईजी को सुरक्षित इंदौर के लिए निर्देश दिए थे। जिसके बाद डीआईजी ने रात में सबको औचक पॉइट देने के बाद अलग-अलग स्थानों पर फोर्स बुलाकर टेस्ट लिया था, लेकिन रात में दो घंटे अलर्ट मिली पुलिस गुरुवार सुबह सोते हुए पाई गई। शहर में बढ़ रहे अपराधों को लेकर मंगलवार रात डीआईजी ने मीटिंग लेकर थाना प्रभारियों को समझाइश दी थी। इधर दो साल पहले भी तत्कालीन एसपी ने तीन थानों का दौरा किया था। जिसमें पुलिसकर्मियों के सोने पर उन्हें लाइन अटैच कर दिया था।

मामला शहर के अन्नपूर्णा थाने का है। यहां गुरुवार सुबह 7 बजे ड्यूटी पर होने के बाद भी पुलिसकर्मी थाने में नींद ले रहा है। दूसरी तरफ चौराहे पर अलर्ट रहने वाली पीसीआर वैन का चालक भी आराम की नींद ले रहा है।

दो साल पहले भी विजय नगर थाने के सब इंस्पेक्टर, विजय नागर संयोगितागंज थाने के हेड कॉस्टेबल और आजाद नगर थाने के सिपाही को इस तरह की हरकत के कारण निलबिंत कर दिया गया था। उस समय के एसपी देर रात हीरानगर, विजयनगर, तुकोगंज , संयोगितागंज सहित कई थानों के निरीक्षण पर थे। पुलिसकर्मियों को इस हाल में देखकर एसपी खुद ही चौंक गए। जिसके बाद उन्होंने जमकर फटकार भी लगाई थी।
यहां यहां हुआ था टेस्ट
डीआईजी मनीष कपूरिया के आदेश के बाद औचक पॉइट्स पर चंदननगर, मुकेरीपुरा, मेट्रो माल, जूनी इंदौर सहित अन्य थानों में रिस्पॉस टाइम का टेस्ट लिया गया था। जिसमें सभी को एक नियमित समय के मुताबिक पहुंचना था। इसके साथ ही रात में कई थानों में शराब की दुकान और कैफे सहित अन्य स्थानों पर चेकिंग भी लगाई गई थी।

खबरें और भी हैं...