श्री गुरु नानक देव का 553वां प्रकाश पर्व:अलसुबह इमली साहिब गुरुद्वारा से निकली प्रभात फेरी, फूलों से जोरदार स्वागत

इंदौरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रभातफेरी का पुष्पों से स्वागत। - Dainik Bhaskar
प्रभातफेरी का पुष्पों से स्वागत।

रविवार 7 नवम्बर को गुरु नानक देव महाराज का प्रकाश पर्व शुरू हो गया। 13 दिवसीय इस आयोजन में कई कार्यक्रम होंगे। इसके तहत रविवार सुबह 4.30 बजे इमली साहिब गुरुद्वारा से विशाल प्रभात फेरी निकली। इसके अलावा अन्य स्थानों से प्रभात फेरियां निकली जो इमली साहब गुरुद्वारा पहंुंची। प्रभातफेरी में श्री गुरु नामक देव का स्मरण कर पुष्पा वर्षा की गई।

श्री गुरु सिंघ सभा, इंदौर के तत्वावधान में गुरु नानक देव महाराज का प्रकाश गुरुपर्व मनाया जा जा रहा है। इसके तहत 17 से 19 नवम्बर तक भव्य दीवान सजाए जाएंगे। विशाल नगर कीर्तन का आयोजन 14 नवंबर को होगा। सभा के अध्यक्ष मनजीत सिंह भाटिया और महासचिव जसबीर सिंह गांधी के मुताबिक 7 नवंबर रविवार को इंदौर के सभी गुरुद्वारा साहिब से प्रभातफेरियां निकाली गई। यह प्रभातफेरियां अल सुबह 4.30 बजे अपने-अपने क्षेत्रों, कॉलोनियों के गुरुद्वारा साहिब से गुरु नानक नाम लेवा श्रद्धालुओं के घर-घर गई। जहां परिवारों द्वारा साध संगत का स्वागत, सबसे आगे चल रहे निशान साहिब पर फूल माला पहनाकर व संगतों पर पुष्प वर्षा के साथ स्वागत किया गया।

प्रकाश पर्व पर निकली प्रभात फेरी।
प्रकाश पर्व पर निकली प्रभात फेरी।

विशाल नगर कीर्तन 14 को
उन्होंने बताया कि 14 नवंबर को सुबह 11 बजे ऐतिहासिक गुरुद्वारा इमली साहिब से विशाल नगर कीर्तन परंपरागत, सिक्खी शानों-शौकत से राऊ, बेटमा साहिब व शहर के सभी गुरुद्वारा के शब्दी जत्थों के साथ शुरू होगा। इसमें सिक्ख समाज के सभी धार्मिक, शैक्षणिक एवं सामाजिक संस्थाएं शामिल होगी। वहीं, 17 नवंबर को विशेष दीवान शाम को और 18 नवंबर की सुबह का दीवान ऐतिहासिक गुरुद्वारा इमली साहिब पर सजाए जाएंगे। 18 नवंबर की शाम व 19 नवंबर को विशेष दीवान गुरु तेग बहादुर स्टेडियम खालसा कॉलेज में सजाए जाएंगे।