खाद्य तेलों की मांग:खाद्य तेल का आयात 140 लाख टन होने के आसार

इंदौर25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • अमेरिका में एंडिंग स्टॉक बढ़कर रहने का अनुमान

दीपावली त्योहार पर उत्तरभारत की बाजारों में खाद्य तेलों की मांग सामान्य से कम रही। अब त्योहार संपन्न होने के बाद कुछ दिनों तक मांग कमजोर बनी रहने की आशंका व्यक्त की जा रही है। इसके अलावा त्योहार पहले सप्ताह में आने की वजह से अब पूरे माह ग्राहकी सामान्य एवं माह के अंतिम सप्ताह में एकदम कमजोर रह सकती है। संसदीय कमेटी ने खाद्य तेलों के ऊंचे भावों को लेकर जांच के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा मांग एवं खपत का विश्लेषण भी किए जाने की संभावना व्यक्त की गई।

जानकारों का मत है कि सोया तेल में लंबे समय से इस कठिन दौर में उद्योग प्रीमियम लेकर बेचवाली कर रहा था। विश्लेषक यह अनुमान भी लगा रहे हैं कि वर्ष 2021-22 में भारत का खाद्य तेल का आयात 137 से बढ़कर 140 लाख टन हो सकता है। आयात शुल्क में कटौती से सनफ्लावर एवं सोया तेल का आयात बढ़ने के आसार बनने लगे हैं।

आयटीएस के अनुसार 1 से 5 नवंबर के बीच मलेशिया से तेल का निर्यात 11.6 प्रतिशत की वृद्धि हुई किंतु भारत की पूर्व महीनों की अपेक्षा मांग कम है। विभिन्न कंपनियों के सर्वे के अनुसार अक्टूबर माह में 0.2 से लेकर 1.2 प्रतिशत उत्पादन में गिरावट आ सकती है। दूसरी ओर निर्यात में 11.73 से 12.6 प्रतिशत की गिरावट आने की संभावना है। पिछले माह में 3.42 से 4 प्रतिशत तक स्टॉक बढ़ने का अनुमान लगाया जा रहा है। इस वजह से केएलसीई में कुछ और कमजोरी देखी जा सकती है। अब अमेरिका में भी कमजोर निर्यात, उत्पादकता एवं एंडिंग स्टॉक में वृद्धि का अनुमान लगाया जाने लगा है।

अमेरिका की साप्ताहिक सोयाबीन की रिपोर्ट में निर्यात 1.864 मिलियन टन रहा, जबकि विश्लेषकों का अनुमान 10 से 20.2 लाख मिलियन टन का था। अमेरिकी कृषि विभाग की मासिक रिपोर्ट में अमेरिका में सोयाबीन उत्पादन का अनुमान बढ़ाकर 51.9 ब्रशल प्रति एकड़ होने का किया है। सोयाबीन का एंडिंग स्टॉक भी बढ़ाकर 362 मिलियन बुशल बताया गया है।

14 से 19 नवंबर के बीच वर्षा की संभावना
अरब सागर में एक लो प्रेशर एरिया बना हुआ है। यह 14 से 19 नवंबर के बीच कर्नाटक एवं महाराष्ट्र के कई क्षेत्रों में वर्षा होने की संभावना व्यक्त की जा रही है। इसके प्रभाव से तटीय कर्नाटक, तमिलनाडु, तेलंगाना में वर्षा होने के संकेत दिए जा रहे हैं। इसके प्रभाव से मध्य महाराष्ट्र में भी हल्की-सी वर्षा हो सकती है। इंदौर तेल बाजार में अवकाश रहा। महाराष्ट्र में सोया तेल सुगना 1275 कपील 1250 कृति 1251 श्रीनिवास 1250 कोहिनूर 1250 अंबुजा 1250 शालीमार 1290 रुपए।

खबरें और भी हैं...