पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • Education Department Officers Taking Bribe From Their Own Fellow Employees, Policemen Asking For Money For Not Increasing The Section In The FIR

सरकारी दफ्तरों में घूसखोरी का संक्रमण:अपने ही साथी कर्मचारियों से घूस ले रहे शिक्षा विभाग के अफसर, FIR में धारा न बढ़ाने के पैसे मांग रहे पुलिसकर्मी

इंदौर11 दिन पहलेलेखक: राहुल दुबे
  • कॉपी लिंक
खनिज अधिकारी प्रदीप खन्ना का होम थियेटर। - Dainik Bhaskar
खनिज अधिकारी प्रदीप खन्ना का होम थियेटर।

सरकारी दफ्तरों में बिना रिश्वत कोई काम नहीं हो रहे। पिछले डेढ़ साल में जो मामले सामने आए हैं, उनमें शिक्षा विभाग घूसखोरी में सबसे अव्वल है। इसके बाद पुलिस और राजस्व विभाग की बारी आती है। शिक्षा विभाग के अफसर तो अपने साथी व पूर्व कर्मचारियों के काम भी बिना रिश्वत लिए नहीं कर रहे। लोकायुक्त पुलिस के अनुसार 2020 में 24 कर्मचारी रंगेहाथ पकड़े गए थे, जबकि 2021 में अब तक 16 गिरफ्त में आ चुके हैं।

2020 में स्कूली शिक्षा विभाग में 5 मामले पकड़े गए। शिक्षकों के ही पीएफ, ग्रेच्युटी, वेतनमान जैसे काम के एवज में प्राचार्य, संकुल प्रभारी रिश्वत मांग रहे थे। पुलिसकर्मी एफआईआर में धारा न बढ़ाने के नाम पर वसूली करते पकड़े गए हैं। राजस्व विभाग में नामांतरण, आदि के लिए वसूली की जा रही है। तीन सालों में 15 सरकारी अफसरों पर 200 करोड़ से ज्यादा आय से अधिक संपत्ति का खुलासा हुआ है।

सक्सेना की अलमारी में मिले 10.68 लाख।
सक्सेना की अलमारी में मिले 10.68 लाख।

आय से अधिक संपत्ति के मामलों में भी अफसरों ने बनाए रिकॉर्ड, पांच साल में 325 करोड़ की संपत्ति पकड़ी गई

1. डॉ. शारिक मोहम्मद शेख : 27 अक्टूबर 2016 को पशु चिकित्सालय एमओजी लाइन के डॉ. शारिक मोहम्मद शेख के निवास पर छापा मारा था। 10 करोड़ की बेनामी संपत्ति मिली।

2. आनंद राणे : 3 दिसंबर 2016 को पीडब्ल्यूडी के कार्यपालन यंत्री राणे के इंदौर, भोपाल, ग्वालियर स्थित मकानों पर छापा मारा था। 15 करोड़ रुपए की संपत्ति का खुलासा।

3. राजेंद्र बिरथरे : 9 दिसंबर 2016 को आईडीए की स्थापना शाखा में पदस्थ सहायक ग्रेड दो क्लर्क राजेंद्र बिरथरे के स्कीम 114 स्थित घर पर छापा मारा। 5 करोड़ की संपत्ति मिली।

4. अशोक चावला : मप्र ग्रामीण सड़क प्राधिकरण महाप्रबंधक चावला को दो लाख की रिश्वत लेते पकड़ा गया था। एक माह बाद घर पर छापे में 3 करोड़ की संपत्ति मिली।

5. अनिता कुरोठे : टीएंडसीपी इंदौर में सालों रहीं, देवास में उप संचालक अनिता कुरोठे के निवास पर 12 सितंबर 2017 को छापा था। 20 करोड़ की संपत्ति मिली थी। जांच जारी है।

6. आनंद जैन : 24 दिसंबर 2017 को रिटायर्ड अपर कलेक्टर आनंद जैन के निवास पर छापा मारा था। बायपास पर डेढ़ एकड़ जमीन सहित करोड़ों की संपत्ति मिली थी।

7. विजय सक्सेना : निगम की जनकार्य शाखा के प्रभारी अधीक्षक के यहां से 4 मकान, तीन फ्लैट, 25 लाख का सोना, 15 लाख नकद बैंक खातों में मिले।

8. पराक्रम सिंह चंद्रावत : 27 अप्रैल 2018 को जिला आबकारी अधिकारी पराक्रम सिंह चंद्रावत के स्कीम 54 इंदौर स्थित मकान पर छापे में 50 करोड़ की संपत्ति मिली थी।

9. असलम खान : 6 अगस्त 2018 को नगर निगम के बेलदार असलम खान के अशोका कॉलोनी स्थित घर पर छापा मारा था। 25 करोड़ की संपत्ति का खुलासा हुआ।

10. शकुंतला डामोर : 7 दिसंबर 2018 को जनजाति कार्य विभाग में सहायक आयुक्त शकुंतला डामोर के यहां छापे में करोड़ रुपए की संपत्ति मिली। अभी जेल में है।

11. गजानंद पाटीदार : 4 मई 2019 को आईडीए के उपयंत्री पाटीदार के यहां छापा मारा तो सवा किलो सोना, भाई के नाम 23 प्लॉट मिले थे। इनके खिलाफ जांच चल रही है। 12. देवेंद्र जैन : धार के निगम इंजीनियर जैन् के यहां पुरानी कार की डिक्की से 10 करोड़ की संपत्ति के कागज मिले। 44 तोला सोना और 8 हेक्टेयर जमीन का पता चला।

खबरें और भी हैं...