केंद्रीय गृह राज्यमंत्री का चार्टर प्लेन क्रैश होने से बचा:इंदौर एयरपोर्ट से उड़ान भरने के बाद इंजन में खराबी, वापस लाकर इमरजेंसी लैंडिंग कराई

इंदौर6 महीने पहले

इंदौर एयरपोर्ट पर केंद्रीय गृह राज्यमंत्री निशीथ प्रामाणिक का चार्टर प्लेन दुर्घटनाग्रस्त होने से बच गया। केंद्रीय मंत्री को इंदौर लेकर आया प्लेन उन्हें छोड़ने के बाद वापस उड़ान भरते ही डगमगाने लगा। ऐसा इंजन में खराबी आने से हुआ। पायलट ने इंदौर एयरपोर्ट पर जानकारी दी। इसके बाद प्लेन की इंदौर में इमरजेंसी लैंडिंग कराई गई।

भाजपा नेता और पश्चिम बंगाल के कूचबिहार से लोकसभा सांसद व केंद्रीय गृह राज्यमंत्री प्रामाणिक मंगलवार शाम 5.30 बजे दिल्ली से विशेष चार्टर विमान से इंदौर आए थे। उन्हें छोड़ने के बाद प्लेन को वापस दिल्ली लौटना था। प्लेन में पायलट और को-पायलट थे। प्लेन में ईंधन भरवाने के बाद शाम 6.40 बजे इंदौर से दिल्ली के लिए उड़ान भरी। उड़ान भरने के कुछ समय बाद विमान के दूसरे इंजन में खराबी आ गई। विमान झटके लेने लगा। पायलट ने इसकी जानकारी एयर ट्रैफिक कंट्रोल (ATC) को देते हुए लैंडिंग की परमिशन मांगी।

ATC ने परमिशन देने के साथ ही एयरपोर्ट पर इमरजेंसी घोषित करते हुए फायर, एंबुलेंस को भी जानकारी दी। प्लेन इंदौर से रवाना होने के बाद करीब 92 किलोमीटर तक जा चुका था। पायलट ने वापस इंदौर लाते हुए शाम 7.19 बजे एयरपोर्ट पर सुरक्षित लैंडिंग करवाई।

मोदी कैबिनेट के युवा मंत्री हैं प्रामाणिक

35 साल के प्रामाणिक मोदी कैबिनेट में सबसे कम उम्र के मंत्री हैं। उनका बर्थ प्लेस पश्चिम बंगाल के कूच बिहार जिले में दिनहाटा है। उनके पास कंप्यूटर एप्लिकेशन में ग्रेजुएशन की डिग्री है।

कांग्रेस सांसद ने दावा किया था निशीथ बांग्लादेशी हैं

संसद के मानसून सत्र से पहले निशीथ प्रामाणिक की नागरिकता पर सवाल उठे थे। असम के कांग्रेस सांसद और प्रदेश अध्यक्ष रिपुन बोरा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर प्रामाणिक के बर्थ प्लेस और राष्ट्रीयता की जांच की मांग की थी। तृणमूल नेताओं ने भी इस मुद्दे को उठाया था। बोरा ने कुछ मीडिया रिपोर्ट्स का हवाला देते हुए कहा था कि प्रामाणिक बांग्लादेशी नागरिक हैं।