• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • Employee Blackmailed Female Colleague On The Pretext Of Marriage In Indore, Arrested, Also Filed A Case Of Love Jihad

महिला सहकर्मी से रेप:इंदौर में कर्मचारी ने शादी का झांसा देकर ब्लैकमेल किया, गिरफ्तार, लव जिहाद का केस भी दर्ज

इंदौर6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
गिरफ्तार आरोपी। - Dainik Bhaskar
गिरफ्तार आरोपी।

महिला सहकर्मी से रेप का मामला सामने आया है। मामला इंदौर का है, जहां विजय नगर थाने में महिला ने प्राइवेट कंपनी के कर्मचारी के खिलाफ रेप का आरोप लगाया है। आरोप है कि कर्मचारी शादी का झांसा देकर महिला को ब्लैकमेल कर रहा था। महिला से दोस्ती के दौरान युवक ने अपना नाम अलग बताया था और इस दौरान उसने रेप भी किया। शादी की बात चलने पर परिवारवालों ने उसे दूसरे धर्म का बताया। युवती ने इसके बाद आरोपी से बात करना बंद कर दी। इसके बाद भी आरोपी ने मेल आईडी पर युवती को ब्लैकमेल करना शुरू किया। पुलिस ने मामले की गंभीरता को देखते हुए 24 घंटे के अंदर आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेजा। उस पर लव जिहाद का भी केस दर्ज किया गया है।
शादी से इनकार किया तो ब्लैकमेल कर 2 लाख रुपए मांगे
थाना प्रभारी तहजीब काजी के अनुसार पीड़िता ने शनिवार देर रात शिकायत दर्ज कराई थी कि उसकी कंपनी में कार्य करने वाला सीनियर कर्मचारी द्वारा उससे दोस्ती की। शादी का झांसा देकर उसके साथ रेप किया। पीड़िता ने जब शादी से इंकार कर दिया, तो आरोपी ने उससे 2 लाख की मांग की। पीड़िता के परिवार वालों को जान से मारने की धमकी दी।
असली नाम से नहीं परिचित थी पीड़िता
पीड़िता ने पुलिस को बताया कि जिस कंपनी में दोनों काम करते थे। वहां सभी आरोपी को केवल मलिक साहब कहा करते थे। इस कारण से वह आरोपी के असली नाम आरिफुल मलिक (27) से परिचित नहीं थी, लेकिन शादी की बात निकलने के बाद पीड़िता के परिवार ने जब आरोपी युवक के परिवार की जानकारी निकाली, तो वह दूसरा धर्म का निकला। इसके बाद आरोपी पर लव जिहाद का केस भी दर्ज किया।

मोबाइल पर ब्लॉक किया तो मेल आईडी पर भेजे मैसेज

पीड़िता ने पुलिस से शिकायत दर्ज कराई, तब सबसे बड़ा चैलेंज पुलिस को यह था कि आरोपी का मोबाइल बंद था। वहीं, युवती के मेल आईडी पर आरोपी ने उसे शादी का दबाव बनाने के लिए मेल किए थे। वहीं, जान से मारने की धमकी भी दी थी। मोबाइल नंबर द्वारा पुलिस किसी भी व्यक्ति की लोकेशन व उसकी CDR (कॉल डिटेल) निकाल कर आरोपी तक पहुंच जाती है। बावजूद पुलिस ने 24 घंटे में ही आरोपी को पुलिस हिरासत में लेकर भेज दिया।

परिवार ने दी असली नाम की जानकारी

पीड़िता ने पुलिस को बताया कि दोनों 1 साल पहले चश्मा बनाने वाली कंपनी में साथ में काम करते थे। जहां दोनों में प्यार हुआ। आरोपी ने उसे शादी की बात भी की, लेकिन परिवार द्वारा जब उसका नाम आरिफुल मलिक बताया गया। इसके बाद पीड़िता ने उससे बातचीत करना बंद कर दी। अपने मोबाइल पर भी उसे ब्लॉक कर दिया, लेकिन आरोपी ने फेसबुक आईडी हैक कर उसका पासवर्ड बदल दिया। मेल आईडी मिलने के बाद उसके फोटो वायरल करने की धमकी देने लगा।

खबरें और भी हैं...