• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Indore
  • Expert Said That There Is Less Than 1 Month Left For The Exam, Focus On These Subjects, Give 15 Days To Revision

AFCAT एग्जाम की तैयारी कैसे करें:एक्सपर्ट बोले- एग्जाम में एक महीने से कम समय; सिर्फ रिवीजन और मॉक टेस्ट पर फोकस रखें

इंदौर7 महीने पहले

इंडियन एयरफोर्स में फ्लाइंग ऑफिसर पद के लिए AFCAT (एयरफोर्स कॉमन एडमिशन टेस्ट) एग्जाम 12 से 14 फरवरी तक प्रस्तावित है। इसकी तैयारी कर रहे अभ्यर्थियों के पास 15 दिन से भी कम का समय है। इन दिनों का कैसे उपयोग करें, किस स्ट्रेटजी के साथ पढ़ाई करें? किन विषयों पर ज्यादा फोकस करने की जरूरत है? ये हम जानेंगे एजुकेशन एक्सपर्ट लखन सिंह यादव (डायरेक्टर, फोर्स डिफेंस एकेडमी, इंदौर) से…

एजुकेशन एक्सपर्ट लखन सिंह यादव बता रहे हैं कि स्टूडेंट्स अगर पिछले वर्षों के पेपर देखें, तो पाएंगे कि पेपर काफी मॉडरेट रहे हैं। एग्जाम में डिफिकल्टी लेवल ज्यादा नहीं होता। ऐसे स्टूडेंट्स जो बेसिक नॉलेज रखते हैं, वे भी आसानी से इस एग्जाम को क्लियर कर सकते हैं। स्ट्रेटजी की बात करें, तो AFCAT का सिलेबस 4 पार्ट में डिवाइड रहता है। इसमें अलग-अलग सब्जेक्ट का अलग-अलग वेटेज रहता है। रीजनिंग के 32 प्रश्न, मैथ के 18 प्रश्न, इंग्लिश, जीए जीके जो पार्ट है उसके 25-25 प्रश्न आते हैं।

इसमें रीजनिंग सबसे स्कोरिंग पार्ट है। स्टूडेंट्स को रीजनिंग पर फोकस रखना है। इसमें भी वर्बल और नॉन वर्बल में वर्बल के प्रश्न ज्यादा आते हैं। इंग्लिश भी मॉडरेट लेवल की आती है। इसमें CDS जैसी टफ इंग्लिश नहीं आती है। इंग्लिश के 25 प्रश्नों के साथ ही मैथ के 18 प्रश्नों पर भी फोकस करें। क्योंकि मैथ में चुनिंदा टॉपिक्स ही पूछे जाते हैं।

जीके की तैयारी ऐसे करें
उन्होंने बताया कि जीके के लिए अभी कुछ ईयर बुक्स आ गई हैं। इसमें सालभर का सामान्य ज्ञान, करंट अफेयर दिया गया है। इन बुक्स के माध्यम से स्टूडेंट्स तैयारी कर सकते हैं। जीके के प्रश्न सरल आते हैं, लेकिन इसका एरिया ज्यादा बड़ा होता है। स्टूडेंट्स को देखना होगा कि इतिहास में जो महत्वपूर्ण युद्ध, महत्वपूर्ण आंदोलन हुए हैं, उन आंदोलन के मुख्य नेता कौन थे। कौन सा आंदोलन किस वजह से हुआ था। उस आंदोलन से क्या लाभ मिले हैं। यह ध्यान रखने की जरूरत है। पॉलिटिक्स में सामान्य प्रश्न तो जियोग्राफी में बेसिक ज्ञान पूछा जाता है। स्टूडेंट्स पहला फोकस रीजनिंग और मैथ पर रखें। इसके बाद इंग्लिश और जीके पार्ट की तैयारी करें।

15 दिन मॉक टेस्ट, 15 दिन रिवीजन
लखन सिंह यादव ने कहा कि, अगर तैयारी अच्छी हो गई है तो अब स्टूडेंट्स मॉक टेस्ट देना शुरू कर दें। मॉक टेस्ट को स्टूडेंट्स को 15 दिन में करना है। क्योंकि मॉक टेस्ट के बाद 15 दिन स्टूडेंट्स के पास रिवीजन के रहेंगे। रिवीजन जितना अच्छा होगा एग्जाम भी उतना ही अच्छा जाएगा। स्टूडेंट्स AFCAT की तैयारी के लिए अरिहंत, दिशा पब्लिकेशन की बुक्स का उपयोग कर सकते हैं।

इसके अलावा स्टूडेंट्स पहले जिन बुक्स को पढ़ रहे हैं। चाहे, मैथ के लिए आरएस अग्रवाल हो या व्यक्तिगत टीचर की लिखी किताब पढ़ रहे हैं। सबसे मूल बात है कंटेंट। यह भी मायने रखता है कि एग्जाम में आने वाले टॉपिक्स को स्टूडेंट्स किस प्रकार कर रहे हैं। मार्केट में करंट अफेयर के लिए प्रतियोगिता दर्पण और दूसरे पब्लिशर की बुक्स काफी हेल्पफुल होगी।

MPPSC इंटरव्यू के टिप्स:इंटरव्यू रूम के अंदर जाते ही झलके आपका कॉन्फिडेंस, आंसर ऐसा दें कि उससे दूसरा प्रश्न न बने

AFCAT फरवरी में, ऐसे करें तैयारी:सभी सब्जेक्ट को दें बराबर वेटेज, जनरल अवेयरनेस में हिस्ट्री-जियोग्राफी, करंट अफेयर्स और आर्मी एप्टीट्यूड से आते हैं सवाल

भूल जाइए भूलने की 'बीमारी':एक्सपर्ट ने बताया- 10:1 फॉर्मूला, इसकी मदद से बनाए नोट्स; जानिए- पूरी टेक्नीक और कैसे करें लागू

MPPSC का इंटरव्यू देना है तो...:नाम से लेकर जहां रहते हैं और जहां से पढ़े, वहां की पूरी जानकारी रखें; जानिए एक्सपर्ट क्या कहते हैं