पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

इंदौर में रस्म अदायगी:एबी रोड पर चक्काजाम करने पहुंचे 15 से 20 किसान; सड़क पर बैठे, लेकिन नहीं रोक पाए वाहन

इंदौर3 महीने पहले
एबी रोड पर गिनती के किसान हाईवे जाम करने पहुंचे और सड़क पर बैठ गए।
  • किसानों से ज्यादा पुलिस और मीडियाकर्मी पहुंच गए

कृषि कानूनों के खिलाफ शनिवार काे देशभर में किसानाें ने हाईवे जाम किया। किसानों के समर्थन में इंदौर में भी शनिवार दोपहर चक्काजाम की रस्म अदायगी की गई। गिनती के किसान आंदोलन में शामिल हुए और सड़क पर बैठ गए। बाद में कृषि कानून को वापस लेने की मांग करते हुए एक ज्ञापन दिया। जिसके बाद पुलिस ने इन्हें सड़क से हटाकर किनारे पर कर दिया। इंदौर में किसान आंदोलन का असर देखने को नहीं मिला।

सड़क पर बैठे लोगों ने किसान कानून को वापस लेने के लिए ज्ञापन दिया।
सड़क पर बैठे लोगों ने किसान कानून को वापस लेने के लिए ज्ञापन दिया।

राष्ट्रीय किसान मजदूर महासंघ के प्रवक्ता आशीष भैरम ने बताया कि संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर राष्ट्रीय किसान मजदूर महासंघ द्वारा मध्यप्रदेश के सभी जिलों में चक्काजाम किया गया था। शनिवार दोपहर महासंघ के संभागीय अध्यक्ष जगदीश सिंह ठाकुर व जिला अध्यक्ष राजकुमार पाटीदार की अगुआई में महाराणा प्रताप चौराहा, राऊ पिगडंबर एबी रोड पर चक्का जाम किया गया। इसके बाद सक्षम अधिकारी को ज्ञापन सौंप कर कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग की गई।

किसानों से ज्यादा पुलिस और मीडिया मौके पर नजर आई।
किसानों से ज्यादा पुलिस और मीडिया मौके पर नजर आई।

ऐसी थी जाम की रस्मअदायगी
किसान संघ ने एबी रोड पर दोपहर 12 बजे से हाईवे को जाम करने की तैयारी एक दिन पहले ही कर ली गई थी। सुबह 11 बजे यहां किसानों को एकत्रित होना था। इसके बाद हाईवे पर धरना देना था। हालांकि 12 बजे बाद एक-एक कर किसानों के आने का सिलसिला शुरू हुआ। हालांकि सुबह से ही 50 से ज्यादा पुलिस जवान जरूर हाईवे पर तैनात हो गए थे। देखते ही देखते मीडिया का जमावड़ा भी हाईवे पर लग गया। सभी किसानों के आने का इंतजार करते रहे, लेकिन 1 बजे तक 15 से 20 किसान यहां पहुंचे और हाईवे जाम करने के लिए सड़क पर बैठ गए। हालांकि किसानों की इतनी संख्या नहीं थी कि सड़क पर आवाजाही को रोकी जा सके। यातायात बिना बाधा के चलता रहा। इसके बाद सड़क पर बैठे इन किसानों ने वहां मौजूद अधिकारी को कृषि कानून वापस लेने के लिए एक ज्ञापन दिया।

हाईवे से गुजर रहे वाहनों को रोकने की कोशिश, पर किसानों की इतनी संख्या नहीं थी कि वे ऐसा कर पाते।
हाईवे से गुजर रहे वाहनों को रोकने की कोशिश, पर किसानों की इतनी संख्या नहीं थी कि वे ऐसा कर पाते।

किसानों का कहना था कि सरकार द्वारा लाए गए किसान विरोधी तीन कानून के विरोध में संयुक्त किसान मोर्चा द्वारा दिल्ली की सीमाओं पर आंदोलनरत हैं। आंदोलन के दौरान अब तक 180 किसान शहीद हो गए हैं, लेकिन सरकार किसानों को सुनने के लिए तैयार नहीं है। इसी कड़ी में अब इंदौर में एबी रोड पर भी किसानों द्वारा चक्काजाम किया गया।

सुबह से ही पुलिस ने हाईवे पर मोर्चा संभाल लिया था।
सुबह से ही पुलिस ने हाईवे पर मोर्चा संभाल लिया था।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- किसी भी लक्ष्य को अपने परिश्रम द्वारा हासिल करने में सक्षम रहेंगे। तथा ऊर्जा और आत्मविश्वास से परिपूर्ण दिन व्यतीत होगा। किसी शुभचिंतक का आशीर्वाद तथा शुभकामनाएं आपके लिए वरदान साबित होंगी। ...

और पढ़ें